पटना: JK बना UT, CM नीतीश बोले- कानून बन गया है, उसमें कोई बात कहां है

 असल में जब मोदी सरकार संसद में अनुच्छेद 370 को समाप्त करने के लिए बिल लेकर आई थी, तो उस वक्त जेडीयू ने सदन से वाकआउट कर दिया था. 

पटना: JK बना UT, CM नीतीश बोले- कानून बन गया है, उसमें कोई बात कहां है
सीएम नीतीश कुमार ने जम्मू-कश्मीर के UT बनने पर प्रतिक्रिया दी. (फाइल फोटो)

पटना: गुरुवार को जम्मू-कश्मीर पूरी तरह से केंद्र शासित प्रदेश बन गया है. इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर लद्दाख से भी अलग हो गया है.

जम्मू-कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेश बनने को लेकर जब जनता दल यूनाइटेड (JDU) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से पूछा गया तो, उन्होंने कहा कि अब तो कानून बन गया है, तो उसमें कोई बात कहां है.

असल में जब मोदी सरकार संसद में अनुच्छेद 370 को समाप्त करने के लिए बिल लेकर आई थी, तो उस वक्त जेडीयू ने सदन से वाकआउट कर दिया था.

इसके बाद जब बिल लागू कर दिया गया तो, उस वक्त जेडीयू के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह ने कहा था कि अब जब बिल पास होकर बन गया है तो, इसका विरोध नहीं करना चाहिए.

आपको बता दें कि पांच अगस्त को केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को समाप्त कर दिया था. इसके बाद से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दोनों अलग-अलग केंद्र शासित बन गए.

इस बिल में कहा गया था कि जम्मू-कश्मीर में अपनी विधानसभा होगी, जबकि लद्दाख में कोई विधानसभा नहीं होगी, जिसका मतलब था कि लद्दाख में विधानसभा के चुनाव नहीं होंगे. 

वहीं, गुरुवार को गिरीश चंद्र मुर्मू ने जम्मू-कश्मीर के पहले उप राज्यपाल के पद की शपथ ली. साथ ही आरके माथुर ने लद्दाख के उप राज्यपाल पद की शपथ ली. 

इसके बाद से दोनों राज्य पूर्ण रूप से अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश हो गए.