नीतीश कुमार से छत्तीसगढ़ सीखेगा शराबबंदी के गुर, पटना में रमन सिंह सरकार के अधिकारियों के साथ बैठक

पटना में अपने आवास पर आज शाम चार बजे नीतीश कुमार छत्तीसगढ़ से आए ग्यारह सदस्यीय टीम को शराबबंदी कानून और उसके असर के बारे में बताएंगे.

नीतीश कुमार से छत्तीसगढ़ सीखेगा शराबबंदी के गुर, पटना में रमन सिंह सरकार के अधिकारियों के साथ बैठक
नीतीश कुमार से शराबबंदी कानून समझने पटना पहुंचे छत्तीसगढ़ सरकार के अधिकारी. (फाइल फोटो)

पटना : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज छत्तीसगढ़ा को शराबबंदी का पाठ पढ़ाएंगे. इसके लिए छत्तीसगढ़ से अधिकारियों की एक टीम पटना पहुंच चुकी है. आज (शुक्रवार को) सीएम नीतीश से उनकी बैठक है. बैठक में सीएम उन्होंने बिहार में लागू शराबबंदी कानून के बारे में बताएंगे.

पटना में अपने आवास पर आज शाम चार बजे नीतीश कुमार छत्तीसगढ़ से आए ग्यारह सदस्यीय टीम को शराबबंदी कानून और उसके असर के बारे में बताएंगे. गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह कई बार राज्य में जल्द ही शराबबंदी कानून लाने का जिक्र कर चुके हैं.

ज्ञात हो कि 2015 में बिहार की सत्ता में आने के बाद नीतीश कुमार ने बिहार में पूर्ण शराबबंदी कानून लागू किया था. इसके तहत राज्य में शराब का किसी भी रूप में इस्तेमाल वर्जित है. कानून तोड़ने पर जेल की सजा का प्रावधान रखा गया है.

हाल ही में नीतीश कुमार ने कहा था कि नौ जुलाई 2015 को पटना में एक कार्यक्रम के दौरान महिलाओं ने शराबबंदी की मांग की. सरकार में आने के बाद ही हमने इसका निर्णय लिया. शराबबंदी की सफलता गिनाते हुए उन्होंने कहा था कि पहले शाम छह बजे के बाद चलने का माहौल नहीं होता था. शादी-विवाह के कार्यक्रम भी शांतिपूर्वक संपन्न हो रहा है.

साथ ही नीतीश कुमार ने कहा कि चंद लोग अभी भी इस अभियान को असफल करने में लगे हैं, लेकिन वह कभी भी इसमें सफल नहीं हो पाएंगे. उन्होंने कहा कि समाज के अधिकतर लोग इसके पक्ष में हैं. 21 जनवरी 2017 को चार करोड़ लोगों ने शराबबंदी और नशामुक्ति के पक्ष में मानव श्रृंखला बनायी थी.