बिहार: झोलाछाप डॉक्टर ने ली मां-बच्चे की जान, बिना डिग्री और पढ़ाई के करता था सर्जरी

बिहार के बगहा में झोलाछाप डॉक्टर की वजह से एक महिला और उसके बच्चे की मौत हो गई. प्रसव पीड़िता बगहा के रामनगर के निजी व अवैध क्लीनिक में भर्ती थी. लेकिन उनकी सर्जरी एक नॉन क्वालिफाइड डॉक्टर ने की जिससे दोनों की मौत हो गई. 

बिहार: झोलाछाप डॉक्टर ने ली मां-बच्चे की जान, बिना डिग्री और पढ़ाई के करता था सर्जरी
झोलाछाप डॉक्टर की वजह से एक महिला और उसके बच्चे की मौत हो गई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इमरान अजीज, बगहा: बिहार के बगहा में झोलाछाप डॉक्टर की वजह से एक महिला और उसके बच्चे की मौत हो गई. प्रसव पीड़िता बगहा के रामनगर के निजी व अवैध क्लीनिक में भर्ती थी. लेकिन उनकी सर्जरी एक नॉन क्वालिफाइड डॉक्टर ने की जिससे दोनों की मौत हो गई. 

वहीं, इस घटना के बाद लोगों में आक्रोशित हो गए हैं. मृतकों के परिजनों ने झोला छाप चिकित्सक को गांव में रोका. मान मनव्वल और मुआवजे की मांग की जा रही है. इस घटना की सूचना मिलते ही रामनगर पीएचसी में भी हड़कंप मच गया है. 

रामनगर पीएचसी के प्रभारी और एसडीपीओ इस घटना से इंकार कर रहे हैं. आपको बता दें कि बगहा एक प्रखंड के भैरोगंज बाज़ार और रामनगर प्रखंड क्षेत्र में धड़ल्ले से दर्जनों अवैध क्लिनिक व नर्सिंग होम
चल रहे हैं. 

हालांकि, वार्ड सदस्य सुनैना देवी ने भी इस घटना की पुष्टि की है. आपको बता दें कि आज ही बगहा में टीकाकरण के बाद डेढ़ दर्जन बच्चे बीमार पड़ गए. यह बगहा के मैनाहा गांव की घटना है. डीपीटी टीकाकरण के बाद एक बच्चे की मौत भी हुई है.