close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना: जलजमाव बढ़ा रही है लोगों की परेशानी, PMCH में डेंगू के मरीजों की संख्या में इजाफा

बीते आठ से नौ दिनों से पटना का ज्यादातर हिस्सा जलजमाव की चपेट में है, जिसका असर दिखने लगा है. लोग डेंगू की चपेट में आने लगे है. 

पटना: जलजमाव बढ़ा रही है लोगों की परेशानी, PMCH में डेंगू के मरीजों की संख्या में इजाफा
PMCH में बढ़ रही है डेंगू के मरीजों की संख्या.

पटना : बिहार की राजधानी पटना में जलजमाव (Water Logging) का असर दिखने लगा है. डेंगू (Dengue) के मरीजों की संख्या में भारी इजाफा हुआ है. हर रोज सौ की संख्या में मरीज डेंगू की शिकायत लेकर पीएमसीएच (PMCH) इलाज के लिए पहुंच रहे हैं. यहां तक की पानी के कारण स्किन से संबंधित बीमारियों को लेकर भी बीते चार पांच दिनों में मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है. जलजमाव की जो स्थिती वर्तमान में बनी हुई है उसके मुताबिक अभी ऐसी बीमारियों में अभी इजाफा के संकेत मिलने लगे हैं. 

बीते आठ से नौ दिनों से पटना का ज्यादातर हिस्सा जलजमाव की चपेट में है, जिसका असर दिखने लगा है. पटना के काजीपुर मोहल्ले में भी बीते नौ दिनों से जलजमाव की स्थिति बनी है. काजीपुर के ही रहने वाले सुजीत यादव शनिवार को डेंगू की शिकायत को लेकर पटना के पीएमसीएच पहुंचे. 

सुजीत यादव ने बताया कि बीते चार पांच दिनों से उन्हें बुखार है. न खाने के लिए कुछ मिल रहा न पीने के लिए पानी. पूरा इलाका जलमग्न है. ऐसे में किसी तरह जान बचाने के लिए अपना इलाज कराने पीएमसीएच पहुंचे हैं. 

उसी तरह शब्जीबाग के रहनेवाले मोहम्मद सुमेर ने बताया कि उनके बेटे को भी डेंगू हो गया है. प्लेटलेट्स घटकर 22 हजार आ गया है. चार पांच दिनों तक वो भी पानी में ही फंसे रहे. बच्चे की खराब हालत को देखते हुए उन्होंने इलाज के लिए बच्चे को पीएमसीएच में एडमिट कराया.

पीएमसीएच में डेगू की जांच करने वाले वॉयरलॉजी डिपार्टमेंट के इंचार्ज डॉ. सचिदानंद बताते हैं कि ऐसे हर दिन डेंगू के 40 मरीज आते हैं. लेकिन बीते तीन चार दिनों से मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है. डेंगू की शिकायत को लेकर हर रोज इलाज के लिए 100 से 125 मरीज पीएमसीएच पहुंच रहे हैं, जिसमें 60 से ज्यादा पॉजिटिव केस पाए जा रहे हैं.

पीएमसीएच प्रबंधन का दावा है कि अस्पताल किसी भी विपरीत परिस्थिती से निपटने के लिए तैयार है. पीएमसीएच के उपाधीक्षक आरके जमैयार ने कहा है कि डेंगू से निपटने के लिए पीएमसीएच के इमरजेंसी के 35 से 40 बेड का वार्ड बनाया गया है. हर रोज बड़ी तादाद में डेंगू के मरीज आ रहे हैं. वहीं, जलजमाव के कारण स्किन रोग की शिकायत को लेकर हर रोज तकरीबन 60 मरीज ज्यादा हास्पीटल पहुंच रहे हैं.