close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार के लोगों को भी रुला रही हैं प्याज की कीमतें, खपत में भी आई काफी कमी

राजधानी पटना में कमोबेश सभी जगह और मंडियों में प्याज के दाम 50 से 60 रुपए प्रति किलो है. दो दिन पहले प्याज की कीमत 65 से 70 रुपये तक हो गई थी.

बिहार के लोगों को भी रुला रही हैं प्याज की कीमतें, खपत में भी आई काफी कमी
रुला रही हैं प्याज की कीमतें. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना : प्याज (Onion) की बढ़ी कीमतें पूरे देश के साथ बिहार के लोगों को भी रुला रही है. 16-20 रुपये किलो बिकने वाला प्याज इस समय 55-60 रुपये में बिक रहा है. सरकार की ओर से भले ही दावे किये जा रहे हैं, लेकिन बाजार में प्याज की बढ़ती कीमतें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. बढ़े दामों की वजह से प्याज की खपत में भी काफी कमी आ गयी है.

राजधानी पटना (Patna) में कमोबेश सभी जगह और मंडियों में प्याज के दाम 50 से 60 रुपए प्रति किलो है. दो दिन पहले प्याज की कीमत 65 से 70 रुपये तक हो गई थी, लेकिन अब 55 से 60 रुपये पर स्थिर हो गई है. हालत यह है कि प्याज की बिक्री में काफी कमी आयी है. लोगों की रसोई का जायका प्याज के दाम बढ़ने से फीका पड़ गया है. ज़ी मीडिया से बात करते हुए लोगों का कहना है कि प्याज के बढ़ते दामों की वजह से अब उन्होंने खाने में कम प्याज इस्तेमाल करने का फैसला किया है.

लोकल प्याज की कीमत बजार में ज्यादा है और इसकी डिमांड भी ज्यादा है. सब्जी विक्रेताओं का कहना है कि नासिक से आने वाला प्याज पांच रुपये सस्ता बिक रहा है, लेकिन इसे लोग ज्यादा पसंद नहीं कर रहे हैं. कुछ दुकानदारों का कहना है कि प्याज के दाम अभी भले ही स्थिर हुए हैं, लेकिन आने वाले दिनों में दाम और बढ़ सकते हैं, क्योंकि त्योहारों का सीजन आने वाला है. प्याज के साथ अन्य सब्जियों के दाम में भी बढ़ोतरी हुई है.

उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने दावा किया है कि केंद्र के पास पर्याप्त मात्रा में प्याज है. राज्य सरकारों को प्याज उलब्ध कराया जाएगा. साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार अपने बफर स्टॉक से प्याज को बाजार में उतार कर घरेलू बाजार में प्याज के दामों को संतुलित करेगी. वहीं भारतीय राजनीति में प्याज के दाम की खासी अहमियत रही है, ऐसे में अगर प्याज के दाम समय रहते कम नहीं होते हैं, तो इसको लेकर सियासत होनी तय है.

-- Saloni Shrivastava, News Desk