close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार : नियोजित शिक्षकों पर लाठीचार्ज को लेकर सदन में विपक्ष का हंगामा, बाहर भी विरोध प्रदर्शन

कांग्रेस के विधान पार्षद प्रेमचन्द्र मिश्र एक शिक्षक की मृत्यु का मामला उठाते हुए सरकार से संवेदनशील होने की मांग की.

बिहार : नियोजित शिक्षकों पर लाठीचार्ज को लेकर सदन में विपक्ष का हंगामा, बाहर भी विरोध प्रदर्शन
बिहार विधानसभा के बाहर और अंदर विपक्ष का हंगामा.

पटना : बिहार की राजधानी पटना में नियोजित शिक्षकों पर लाठीचार्ज के विरोध में आज यानी शुक्रवार को विपक्ष ने विधान परिषद में जोरदार हंगामा किया. विपक्षी सदस्य वेल में पहुंच गए. बिहार विधान परिषद में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी नीतीश सरकार पर हमलावर दिखीं. राबड़ी देवी सदन के वेल में पहुंच गई और उन्होंने सरकार पर महिला शिक्षकों की पिटाई पर नाराजगी जतायी.

सदन के बाहर सरकार के खिलाफ के साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भी राबड़ी देवी ने निशाना साधा. उन्होंने कहा कि 2005 से नीतीश कुमार मुख्यमंत्री हैं. कर्मचारियों और शिक्षकों पर लाठी चलवाते रहते हैं. 

कांग्रेस के विधान पार्षद प्रेमचन्द्र मिश्र एक शिक्षक की मृत्यु का मामला उठाते हुए सरकार से संवेदनशील होने की मांग की. साथ ही उन्होंने कहा की पुलिसिया मेनुअल के खिलाफ शिक्षकों पर लाठीचार्ज किया गया. मुख्यमंत्री सदन में इमरजेंसी की याद दिलाते हैं, लेकिन उनकी पुलिस शिक्षकों का सिर फोड़ती है. मुख्यमंत्री को इस्तीफा देना चाहिए.

सदन में शिक्षकों के मामले को लेकर आरजेडी और कांग्रेस के सदस्यों के साथ ही बीजेपी और जेडयू के सदस्य भी लगातार सरकार से न्याय करने की मांग करने लगे. सदस्य शिक्षा मंत्री के बयान से संतुष्ट नहीं दिखे. लेकिन उपमुख्यमंत्री ने शिक्षकों के कॉपी जांच की पारिश्रमिक एक महीने में देने की घोषणा की तो सदस्य शांत हुए.