PK ने संभाला AAP के चुनावी प्रचार का मोर्चा, विपक्ष ने साधा निशाना

तेजस्वी यादव ने कहा कि जो लोग प्रोफेशनल होते हैं उन पर बार-बार टिप्पणी करने की आवश्यकता नहीं है. वहीं, वीआईपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी ने कहा की यह जेडीयू को सोचने की आवश्यकता है.

PK ने संभाला AAP के चुनावी प्रचार का मोर्चा, विपक्ष ने साधा निशाना
प्रशांत किशोर पर विपक्ष ने निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

पटना: जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) दिल्ली में अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) की आम आदमी पार्टी (AAP)  के लिए प्रचार का जिम्मा संभाला लिया है. वहीं, इसको लेकर बिहार में राजनीति तेज हो गई है. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav)  ने प्रशांत किशोर को राजनेता नहीं बल्कि प्रोफेशनल बताया है.

तेजस्वी यादव ने कहा कि जो लोग प्रोफेशनल होते हैं उन पर बार-बार टिप्पणी करने की आवश्यकता नहीं है. वहीं वीआईपी (VIP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी ने कहा की यह जेडीयू को सोचने की आवश्यकता है.

मुकेश सहनी ने कहा कि जेडीयू दिल्ली में चुनाव लड़ने जा रही है और पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जेडीयू को छोड़कर अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी का प्रचार करेंगे. इस पर जेडीयू को मंथन करने की आवश्यकता हैं कि पार्टी के पदाधिकारी दूसरे का प्रचार करेंगे. 

उन्होंने कहा कि जेडीयू की विचारधारा प्रशांत किशोर से मिल नहीं पा रही है इसलिए वह दूसरे की मदद कर रहे हैं. वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता अमित कुमार टुना ने कहा प्रशांत किशोर को यह गिफ्ट मिला था. वह पॉलिटिशियन नहीं बल्कि प्रोफेशनल हैं. प्रशांत किशोर किसी एक पार्टी के नहीं है. अभी वह अरविंद केजरीवाल का चुनाव कैंपेन कर रहे हैं, उससे पहले भी कई दूसरी पार्टियों का कैंपेन किया है. नीतीश कुमार को लोगों की कमी है इसलिए प्रशांत किशोर को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाए हैं.  

वहीं, आरएलएसपी (RLSP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि आपस में सिर फुटौवल कर रहे हैं. अब इसी तरह होगा और डूबना तय है. उन्होंने कहा कि प्रशांत  किशोर और नीतीश कुमार क्या कर रहे हैं मामला यह नहीं है. मामला यह है कि सब लोगों को अब डूबना है.

इधर, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (HAM) के प्रवक्ता विजय यादव ने कहा कि यह जेडीयू के अंदर का मामला है. प्रशांत किशोर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हनुमान हैं और उन्होंने (नीतीश कुमार) प्रत्येक राज्य में पीके को भेजकर लंका रूपी बीजेपी को खत्म करने का प्रण कर रखा है.