झारखंड: कोरोना से जीवन बचाने के लिए आगे आई संस्था, ऑक्सीजन बैंक की शुरुआत की

बोकारो के सिविल सर्जन ने इस कार्य की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना समाजसेवी आगे आ रहे हैं. यह अच्छी बात है. कोरना में ऑक्सीजन बैंक की वाकई जरूरत है.

झारखंड: कोरोना से जीवन बचाने के लिए आगे आई संस्था, ऑक्सीजन बैंक की शुरुआत की
बोकारो में कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन बैंक का शुभारंभ हुआ है.

मृत्युंजय मिश्रा बोकारो: कोरोना (Corona) के दौरान सांस की समस्या बहुत बड़ी है, ऐसे में ऑक्सीजन (Oxygen) की जरूरत ज्यादा पड़ने लगी है. इस बीच झारखंड के बोकारो में एक सामाजिक संस्था आगे आई है और उसने ऑक्सीजन बैंक (Oxygen Bank) की शुरुआत कर डाली है.वहीं, बोकारो के सिविल सर्जन ने इस कार्य की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना समाजसेवी आगे आ रहे हैं. यह अच्छी बात है. कोरना में ऑक्सीजन बैंक की वाकई जरूरत है. दरअसल, ऑक्सीजन बैंक का शुभारंभ बोकारो के रोटरी मिड टाउन के सदस्यों ने किया है.

बोकारो रोटरी मिड टाउन कपल ने वैश्विक महामारी कोरोना को देखते हुए बोकारो के नया मोड़ स्थित वेस्टिन होटल में ऑक्सीजन बैंक का शुभारंभ किया. इस ऑक्सीजन बैंक का शुभारंभ बोकारो जनरल अस्पताल के डायरेक्टर मेडिकल सर्विस डॉक्टर ए के सिंह ने फीता काटकर किया.

यह ऑक्सीजन बैंक बोकारो में पहला ऑक्सीजन बैंक है जिसकी शुरुआत रोटरी मिड टाउन कपल के सदस्यों के द्वारा की गई है. इस ऑक्सीजन बैंक से कोरोना से पीड़ित मरीजों जिनके पास आर्थिक अभाव है और उनको ऑक्सीजन की आवश्यकता है तो उस मरीज के परिजन इस ऑक्सीजन बैंक से फ्री में ऑक्सीजन लेकर मरीजों का इलाज कर पाएंगे.

यह भी पढ़ें: झारखंड में कोविड टेस्टिंग बढ़ा, संक्रमण दर में आई गिरावट

 

आमतौर पर आपने ब्लड बैंक (Blood Bank) के  बारे में सुना लेकिन यह पहला ऑक्सीजन बैंक है. जिसकी सराहना बोकारो जनरल अस्पताल के डायरेक्टर मेडिकल सर्विस एके सिंह ने भी की है. वहीं, मिड टाउन कपल के मीडिया प्रभारी शिव अग्रवाल ने बताया कि वैश्विक महामारी को देखते हुए अभी के दौर में ऑक्सीजन कोरोना वायरस मरीजों के लिए जीवनदान बन गया है. इसी कारण हमारे  दस्यों ने मिलकर ऑक्सीजन बैंक का शुभारंभ किया है.

उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन के अभाव में किसी मरीज की जान ना जाए इसलिए बैंक की शुरूआत की गई है. हमारी कोशिश होगी की उस मरीज को आसानी से ऑक्सीजन उपलब्ध कराएं.