close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: भीड़ ने हाथ में लिया कानून, दो नाबालिग लड़की के काटे बाल

बिहार में एक बार भीड़ ने कानून को हाथ में लिया और मधुबनी के झंझारपुर में खाप पंचायत ने तुगलकी फरमान सुनाते हुए दो नाबालिग लड़की की बाल काटा गया.

बिहार: भीड़ ने हाथ में लिया कानून, दो नाबालिग लड़की के काटे बाल
दो चचेरी बहनों को पहले चरीत्रहीन करार दिया फिर बाल काट दिए और पिटाई भी की

बिंदू भूषणमधुबनी: बिहार में एक बार भीड़ ने कानून को हाथ में लिया और मधुबनी के झंझारपुर में खाप पंचायत ने तुगलकी फरमान सुनाते हुए दो नाबालिग लड़की की बाल काटा गया और लड़की समेत उसके भाई को भी पीटा गया. झंझारपुर थाना क्षेत्र के एक गांव के लोगों ने पंचायत के दौरान तुगलकी फरमान सुनाते हुए एक बार फिर मानवता को शर्मसार कर दिया. 

दरअसल बगीचे में लकड़ी पता चुनने के दौरान दोनों बहनों को दो लड़का छेड़ रहा था जिसका नाबालिग लड़की ने विरोध किया. उसी मामले को लेकर गांव के दबंगों ने पंचायत बैठाया और पीड़िता को ही सजा दे डाला. लोगों ने पंचायत में दो चचेरी बहनों को पहले चरीत्रहीन करार दिया फिर बाल काट दिए और पिटाई भी की. बाल काटते देख भाई से रहा नहीं गया , वह रोकने का प्रयास किया तो लोगों ने लड़के पर सैकड़ों लाठियां बरसायी.

 

पंचायत वालों ने लड़की के घरवालों पर दो लाख का जुर्माना भी ठोका है. पीड़िता के भाई की माने तो पंचायत में बहनों पर हो रहे अत्याचार देखा नहीं गया उसने लोगों से कहा बहन को छोड़ दो जो सजा देना है मुझे दो ,उसी पर सभी लोग बाल काटना छोड़ उस लड़के पर टूट पड़े और उसे तब तक पीटते रहे जब वह बेहोश ना हो गया. 

बेहोश होकर गिरने पर लोगों ने उसे मरा समझ सड़क किनारे फेंक दिया फिर परिवार वालों ने उसे उठा कर घर लाया. पीड़िता ने रोते हुए कही दोनों बहनों को पंचायत में पीटा गया ,भद्दी -भद्दी गालियां दी गयी डंडा पेट में घुसेरा गया और फिर बाल काट डाला.ग्रामीणों ने कहा लड़की के आचरण को लेकर सजा दी गयी है. बहरहाल पीड़िता के पिता ने झंझारपुर थाना में 12 लोगों के खिलाफ नामजद एफआईर दर्ज कराई है. हालांकि पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है जिससे पूरा परिवार दहशत में है.