close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोडरमा: 3 महीने से भतीजा कर रहा था दुष्कर्म, लेकिन पीड़िता को ही निर्वस्त्र कर घुमाया

महिला की माने तो पिछले 3 महीने से पति की गैरमौजूदगी में उसका भतीजा लगातार उसका शारीरिक शोषण कर रहा था और जब यह बात उसने लोगों को बताई तो उस पर ही सारा आरोप लगाकर पंचायत में उसे निर्वस्त्र कर उस से बाल काट कर उसे सजा दी गई.

कोडरमा: 3 महीने से भतीजा कर रहा था दुष्कर्म, लेकिन पीड़िता को ही निर्वस्त्र कर घुमाया
पीड़ित महिला ने थाने में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है.

कोडरमा: झारखंड कोडरमा के मरकच्चो प्रखंड के देंगोडीह गांव में महिला के साथ उसका ही भतीजा शारीरिक शोषण कर रहा था. लेकिन इस मामले के बाद महिलाओं की कथित पंचायत ने निर्वस्त्र कर उसके बाल काट डाले. बहरहाल पीड़ित महिला ने थाने में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है.

पीड़ित महिला की माने तो पिछले 3 महीने से पति की गैरमौजूदगी में उसका भतीजा लगातार उसका शारीरिक शोषण कर रहा था और जब यह बात उसने लोगों को बताई तो उस पर ही सारा आरोप लगाकर पंचायत में उसे निर्वस्त्र कर उस से बाल काट कर उसे सजा दी गई.

 

फिलहाल पंचायत के इस तुगलकी फरमान और सजा के बाद पीड़ित महिला और उसका पूरा परिवार सकते में है. जिस दिन महिलाओं की भरी पंचायत में इस महिला को सजा सुनाई गई उसके एक दिन पहले ही इसका पति घर वापस आया था और उसे इस घटना के बारे में कुछ भी पता नहीं था. हालांकि जब उसकी पत्नी को महिलाओं के कथित पंचायत में घर से ले जाया जा रहा था तो उसने रोकने के प्रयास भी किया लेकिन उसका सुनने वाला कोई नहीं था.

मामले की जानकारी देते हुए कोडरमा एससी एम तमिल वानन ने बताया कि 11 लोगों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज कर लिया गया है और मामले के लिए सुपर विजन के लिए एसडीपीओ को निर्देश दिये गये है. इस महिला के साथ हुए अमानवीय व्यवहार से पंचायत के मुखिया राजीव पांडे भी हैरान है. मुखिया राजीव पांडे की माने तो कुछ लोगों के इशारे पर ग्राम पंचायत से अलग महिलाओं ने एक पंचायत बुलाकर इस महिला को इस तरह की सजा सुनाई है जो कहीं से तर्कसंगत नहीं है. उन्होंने कहा इस सजा सुनाने के लिए न्यायालय हैं ना की इस तरह की पंचायत और कोई समूह.