रामेश्वर उरांव से मिले पंचायत सचिव-गृह रक्षा वाहिनी अभ्यर्थी, 15 नवंबर तक फैलला होने की उम्मीद

कांग्रेस प्रवक्ता आलोक दुबे ने बताया कि मंत्री के तरफ से 15 नवंबर के बीच सभी संबंधित अधिकारियों से बातें होंगी और रास्ता निकालने की कोशिश की जाएगी.

रामेश्वर उरांव से मिले पंचायत सचिव-गृह रक्षा वाहिनी अभ्यर्थी, 15 नवंबर तक फैलला होने की उम्मीद
रामेश्वर उरांव से मिले पंचायत सचिव-गृह रक्षा वाहिनी अभ्यर्थी. (फाइल फोटो)

रांची: राजधानी रांची के मोराबादी मैदान में हाल के दिनों में पंचायत सचिव और गृह रक्षा वाहिनी अपनी मांगों को लेकर आंदोलनरत देखे गए थे, जिन्हें कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल द्वारा आश्वासन देकर उनके आंदोलन को समाप्त कराया गया था और वित्त मंत्री से मुलाकात कराने का वक्त दिया गया था. इसी क्रम में रविवार को आंदोलनरत पंचायत सचिव गृह रक्षा वाहिनी का अलग-अलग प्रतिनिधिमंडल ने वित्त मंत्री रामेश्वर उराव से मुलाकात की और अपनी मांगों से अवगत कराया.

दरअसल, पूर्ववर्ती सरकार की गलती का खामियाजा आज पंचायत सचिव, गृह रक्षा वाहिनी और जैप के अभ्यर्थी भुगत रहे हैं. लेकिन कांग्रेस पार्टी इस मामले पर सकारात्मक पहल करेगी और कुछ रास्ता निकालने की कोशिश की जाएगी यह बातें झारखंड के वित्त मंत्री कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने सभी से मुलाकात के बाद कही.

वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता आलोक दुबे ने बताया कि मंत्री के तरफ से 15 नवंबर के बीच सभी संबंधित अधिकारियों से बातें होंगी और रास्ता निकालने की कोशिश की जाएगी. उन्होंने जानकारी दी कि कृषि मंत्री बादल को इन सभी अभ्यर्थियों की मुख्यमंत्री से मुलाकात कराने के लिए अधिकृत किया गया है.

राज्य के वित्त मंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव से हुई सकारात्मक मुलाकात के बाद अभ्यर्थी बेहद आशान्वित दिखे. उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि इस मामले पर 15 नवंबर से पहले हल निकलेगा और उनकी नियुक्ति हो जाएगी.

जानकारी के अनुसार, आंदोलनरत सभी अभ्यर्थियों का मामला एक लंबे वक्त से अटका हुआ है. ऐसे में अब नई सरकार से सभी को उम्मीद है कि उनका रास्ता जरूर निकाला जाएगा. अब देखना है कि इस पूरे मसले पर सरकार क्या कुछ फैसला ले पाती है.