दिल्ली से पुरस्कार पाकर लौटे मुखिया को मंत्री ने किया सम्मानित, बताया बिहार का गौरव

केंद्र सरकार ने दीन दयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण, नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार और चाइल्ड फ्रेंडली पंचायत से बिहार के तीन मुखिया को नवाजा है.

दिल्ली से पुरस्कार पाकर लौटे मुखिया को मंत्री ने किया सम्मानित, बताया बिहार का गौरव
कपिलदेव कामत ने मुखिया को किया सम्मानित. (फाइल फोटो)

पटना: पंचायती राज मंत्रालय से पुरष्कार पाकर लौटे मुखिया को बिहार सरकार ने सम्मानित किया. पंचायती राज मंत्री कपिलदेव कामत ने मुखिया को सम्मान में बुके दिया और बेहतर कार्य करने को प्रेरित किया. सम्मान समारोह पंचायती राज विभाग के सभागार में अयोजित किया गया. सभागार में पंचायती राज निदेशक के अलावा अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे.

वहीं, बिहार के मुखिया को रष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिलने पर पंचायती मंत्री फुले नहीं समा रहे हैं. मुखिया को मिले सम्मान को बिहार का सम्मान बता रहे हैं.

दरअसल, केंद्र सरकार ने दीन दयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण, नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार और चाइल्ड फ्रेंडली पंचायत से बिहार के तीन मुखिया को नवाजा है.

बिहार के तीन मुखिया ने जबरदस्त काम किया है. पंचायती राज को सशक्तिकरण, गांव को गौरव दिलाने और पंचायत में बच्चों के लिए बेहतर काम करने के लिए केंद्र सरकार ने इन्हें सम्मनित किया है. जहानाबाद के धरनई पंचायत के मुखिया अजय सिंह को तीनों सेगमेंट में पुरस्कार मिला है.

सीतामढ़ी के सोनवर्षा के सिंघवाहिनी पंचायत की रितु जायसवाल को दीन दयाल उपाध्याय सशक्तिकरण पुरष्कार और नालंदा के नगरनौसा के दामोदर बलदा पंचायत मुखिया रंजू देवी को पुरष्कार मिला है. अवार्ड मिलने पर सभी मुखिया ने नीतीश सरकार और मोदी सरकार को शुक्रिया कहा है. पुरष्कार से और काम करने की प्रेरणा मिलने की बात मुखिया ने कही है.