close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना जलजमाव को लेकर प्रशासन ने 22 कर्मचारियों पर की कार्रवाई, अगले आदेश तक रोका वेतन

पटना के कई इलाके 15 दिनों से जलजमाव की समस्या झेल रहा है, इससे पटना वासियों को अभी जलजमाव से निजात मिलती नहीं दिख रही है. क्योंकि पटना के सभी 22 ड्रेनेज सिस्टम खराब हैं. 

पटना जलजमाव को लेकर प्रशासन ने 22 कर्मचारियों पर की कार्रवाई, अगले आदेश तक रोका वेतन
22 संप कर्मियों का अगले आदेश तक वेतन रोक दिया है.

पटना: ड्रेनेज सिस्टम खराब होने के कारण पटना में भीषण जलजमाव हुआ जिससे 15 दिनों बाद भी लोगों को राहत नहीं मिली है. वहीं, सरकार के खिलाफ सड़क को जाम कर आगजनी करना शुरू किया तब जाकर सरकार की नींद खुली और संप हाउस के कर्मियों को दोषी मानते हुए जिला प्रसाशन ने लापरवाही के आरोप में 22 संप कर्मियों का अगले आदेश तक वेतन रोक दिया है.

दरअसल, पटना के कई इलाके 15 दिनों से जलजमाव की समस्या झेल रहा है, इससे पटना वासियों को अभी जलजमाव से निजात मिलती नहीं दिख रही है. क्योंकि पटना के सभी 22 ड्रेनेज सिस्टम खराब हैं. 

इसकी कोई सुध किसी ने नही ली, लेकिन आसमान से बरसी आफत ने सरकार की पूरी पोल खोल दी और सरकार के करोड़ों रुपए के घोटाले का पर्दाफाश हो गया. वहीं, जब पटनावासी सड़क पर उतर कर सरकार के खिलाफ हांगमा करना शुरू किया तो सरकार की किरकिरी शुरु हुई और आनन-फानन में पटना के कमिश्नर आंनद किशोर ने संप हाउस के 22 कर्मियो का अगले आदेश तक वेतन रोक दिया है.

लेकिन जब जी मीडिया की टीम ने नगर निगम के अधिकारियों के चेम्बर में जाकर जानकारी लेना चाहा तो अपना पल्ला झाड़ने लगे और पूरा मामला बुडको पर मढ दिया है. देखने वाली बात होगी कि आने वाले दिनों और क्या कार्रवाई की जाती है.