close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना: बाढ़ में ड्रोन बना मददगार, युवाओं ने इसके जरिये की 5 हजार लोगों की मदद

दस दिनों बाद शहर के राजेंद्र नगर समेत करीब 12 इलाकों में पानी निकासी शुरु हुई है, वहीं कई इलाकों में अभी भी जल जमाव है. बाढ़ से त्रस्त लोगों की मदद के लिए टेकनॉलजी का भी इस्तेमाल किया जा रहा है.

पटना: बाढ़ में ड्रोन बना मददगार, युवाओं ने इसके जरिये की 5 हजार लोगों की मदद
युवाओं ने ड्रोन की मदद से 5 हजार लोगों तक दवा, पानी और कपड़े पहुंचाए.

पटना: भारी बारिश के बाद पटना के हालात अब धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं. दस दिनों बाद शहर के राजेंद्र नगर समेत करीब 12 इलाकों में पानी निकासी शुरु हुई है, वहीं कई इलाकों में अभी भी जल जमाव है. बाढ़ से त्रस्त लोगों की मदद के लिए टेकनॉलजी का भी इस्तेमाल किया जा रहा है. इस आपदा के दौरान पानी में फंसे लोगों के लिए ड्रोन्स भी काफी मददगार साबित हुए हैं.

बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत सामग्री पहुंचाना एक बड़ी चुनौती है, इसमें मदद के लिए ड्रोन का भी इस्तेमाल किया गया. युवाओं ने ड्रोन की मदद से 5 हजार लोगों तक दवा, पानी और कपड़े पहुंचाए. 

स्थानीय युवाओं की टीम और पटना यूनिवर्सिटी के 20 से ज्यादा छात्रों ने ये दावा है की ड्रोन के जरिए ज्यादा लोगों की मदद की जा सकती है, खास तौर पर उन इलाकों में मदद पहुंचाई जा सकती है जहां पर वाहन का पहुंचना मुश्किल है.

युवाओं ने जानकारी दी की 4 ड्रोन्स के जरिए उन लोगों से संपर्क साधा गया जिनके पास न तो पीने का पानी था, न दवाई और न पहनने को कपड़े.  ड्रोन के जरिए ही चार दिनों में 5 हजार से ज्यादा लोगों की मदद की गई. उन्होंने बताया कि बारिश के दौरान बेघर हुए तीन हजार से ज्यादा लोगों को आसपास के घरों और मैरिज हॉल में रुकवाकर न सिर्फ उन्हें कपड़े उपलब्ध करवाए गए बल्कि खाने-पीने की व्यवस्था भी की गई.