पटना: अनशन के दौरान बिगड़ी उपेंद्र कुशवाहा की तबियत, एम्बुलेंस में किया जा रहा इलाज

उपेन्द्र कुशवाहा को ऑक्सीजन दिया जा रहा है और प्लस रेट, बीपी भी कम हो गया है. डॉक्टर ने कहा है कि ऐसे आमरण अनशन पर रहे तो स्थिति क्रिटिकल हो जाएगी. 

पटना: अनशन के दौरान बिगड़ी उपेंद्र कुशवाहा की तबियत, एम्बुलेंस में किया जा रहा इलाज
उपेंद्र कुशवाहा के आमरण अनशन का आज तीसरा दिन है.

पटना: आरएलएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा के आमरण अनशन का आज तीसरा दिन है. तीसरे दिन उपेंद्र कुशवाहा की तबियत अनशन के दौरान बिगड़ गई है. निजी एम्बुलेंस में उपेंद्र कुशवाहा का इलाज किया जा रहा है. 

उपेन्द्र कुशवाहा को ऑक्सीजन दिया जा रहा है और प्लस रेट, बीपी भी कम हो गया है. डॉक्टर ने कहा है कि ऐसे आमरण अनशन पर रहे तो स्थिति क्रिटिकल हो जाएगी. 

आपको बता दें कि उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि शिक्षा के मुद्दे को लेकर हम आमरण अनशन पर हैं और जब तक डिमांड पूरा नहीं होता है तब तक आमरण अनशन पर रहेंगे. जब तक सांस है तब तक आस है और इस लड़ाई में हम जीतेंगे.

उन्होंने आज कहा है कि बच्चों के लिए स्कूल का जमीन सरकार से दिलवा कर रहेंगे. महागठबंधन के लोगों का भरपूर साथ मिला रहा है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार जिस दिन चाह लेंगे उसी दिन स्कूल खुल जाएगा क्योंकि शिक्षा मंत्री का हस्ताक्षर की जरूरत है और वह हस्ताक्षर उसी समय करेंगे जब नीतीश कुमार निर्देश देंगे. अभी तक सरकार के किसी प्रतिनिधि ने संपर्क नहीं किया है.

उपेंद्र कुशवाहा के अनशन का आज तीसरा दिन है. उपेंद्र कुशवाहा की सेहत पर अनशन का असर पड़ने लगा है. उधर, अनशन में महागठबंधन के नेताओं का आने का सिलसिला चल रहा है. लेकिन अब तक आरजेडी का कोई भी बड़ा नेता कुशवाहा के मंच पर नहीं पहुंचा है.

इस पर उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि आरजेडी के नवनिर्वाचित अध्यक्ष आए. इसके पहले रामचंद्र पूर्व और कई बड़े आरजेडी के नेता अनशन में आए. वहीं, तेजस्वी यादव के आने पर कहा कि हर शख्स की अलग-अलग व्यस्तता होती है. 

आपको बता दें कि उपेंद्र कुशवाहा ने साफ कह दिया है कि वो अनशन तभी तोड़ेंगे जब उनकी मांगे पूरी की जाएगी वरना वो अनशन पर लगातार बैठे रहेंगे.