close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: पत्नी के साथ प्रेम संबंध से नाराज पति ने प्रेमी की आंखों में डाल दिया तेजाब

बेगूसराय में एक आदमी ने अपने साथियों के साथ मिलकर अपने ड्राइवर की आंखों में तेजाब डाल दिया.

बिहार: पत्नी के साथ प्रेम संबंध से नाराज पति ने प्रेमी की आंखों में डाल दिया तेजाब
बिहार के बेगूसराय में एक व्यक्ति की आंखों में तेजाब डालने की घटना सामने आई है

बेगूसराय : बिहार में एक बार फिर से अंखफोड़वा कांड की भयावह यादें फिर से ताजा हो गई हैं. यहां एक आदमी ने अपने ट्रैक्टर ड्राइवर की आंखों में तेजाब डाल दिया. बिहार के बेगूसराय जिले के तेघड़ा थाना अंतर्गत बरौनी फ्लैग इलाके में एक व्यक्ति पर आरोप लगा है कि उसने अपनी पत्नी से कथित प्रेम संबंध को लेकर अपने एक ट्रैक्टर चालक की अपने अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर बुरी तरह पिटाई की और उसके बाद उसकी दोनों आंखों में तेजाब डाल दिया.

आरोपी के यहां था ड्राइवर
तेघड़ा पुलिस उपाधीक्षक बीके सिंह ने बताया कि पीड़ित का नाम गौतम कुमार चौधरी (30) है जो कि पडोसी समस्तीपुर जिले के दलसिंहसराय थाना अंतर्गत ओरिया गांव का निवासी है. उन्होंने बताया कि गौतम बरौनी फ्लैग इलाके के निवासी दयाराम सिंह के यहां बतौर ट्रैक्टर चालक नौकरी करता था.

पत्नी से प्रेम संबध
पुलिस ने बताया कि गौतम का दयाराम की पत्नी के साथ प्रेम संबंध था. गत छह फरवरी को दयाराम की पत्नी गौतम के साथ फरार हो गई जिसके बाद दयाराम ने अपनी पत्नी के अपहरण की प्राथमिकी तेघड़ा थाने में दर्ज कराई जिसमें गौतम को आरोपी बनाया गया था. उन्होंने बताया कि गत 16 फरवरी को दयाराम की पत्नी तेघड़ा थाने पहुंची और पुलिस के समक्ष बयान दिया. तेघड़ा थाने की पुलिस ने महिला का बयान अदालत में भी दर्ज कराया जिसके बाद अदालत के आदेश पर महिला को उसके पति के घर भेज दिया गया.

देवरिया में मुकदमा वापस न लेने पर युवती पर फेंका तेजाब

धोखे से बुलाया
पिछले शुक्रवार की शाम को दयाराम के भाई पंकज सिंह ने गौतम को फोन करके बताया कि महिला ने पुलिस के समक्ष कहा है कि वह अब गौतम के साथ ही रहेगी, ऐसे में वह तेघड़ा थाने आ जाए और उक्त महिला को अपने साथ ले जाए.

प्रेम प्रसंग में अड़ंगा बना दोहरे हत्याकांड की वजह, क्राइम शो से सीखे कानून से बचने के पैंतरे

दो दर्जन लोगों ने घेरा
पुलिस ने बताया कि गौतम ने अपने गांव से एक बोलेरो किराए लिया और उससे तेघड़ा थाने के लिए रवाना हुआ. हालांकि थाने से करीब एक किलोमीटर पहले राजमार्ग संख्या 28 पर दयाराम के भाई पंकज, चचेरे भाई कुंदन सिंह, मनीष सिंह, प्रवीण कुमार उर्फ छोटू समेत पहले से घात लगाए करीब दो दर्जन लोगों ने उसकी गाड़ी को रोककर उसे बोलेरो से खींचकर अपने स्कॉर्पियो वाहन में बिठा लिया. 
ये लोग गौतम को अपने साथ लेकर पिपरा चौक स्थित रौशन सिंह के लाइन होटल पहुंचे जहां उसकी बुरी तरह पिटाई करने के बाद मनीष ने गौतम के दोनों आंखों में सीरिंज से तेजाब डाल दिया.

सड़क पर भटकता रहा
पुलिस ने बताया कि तेजाब डाले जाने से जख्मी गौतम के चिल्लाने पर उसे भगवानपुर थाना अंतर्गत बनवारीपुर स्थित हनुमान चौक के पास सड़क किनारे एक खड्ड में फेंककर चले गए. गौतम किसी तरह खड्ड से निकलकर सड़क पर पहुंचा और शोर मचाया जिसके बाद रास्ते से गुजर रहे एक वाहन चालक ने देर रात उसे एक प्राइवेट अस्पताल पहुंचाया. पुलिस ने बताया कि इस मामले में गौतम के बयान पर रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों में से एक को गिरफ्तार करके उससे पूछताछ जारी है.

(इनपुट भाषा से)