पहले लालू यादव, फिर राबड़ी और तेजस्वी से मिले शत्रुघ्न सिन्हा, क्या हैं मुलाकात के मायने?

राजनीति गलियारों में शत्रुघ्न सिन्हा की लालू परिवार से मुलाकात के कई अर्थ निकाले जा रहे हैं. चर्चा है कि बीजेपी से हमेशा खफा रहने वाले शॉटगन नए ठिकाने की तलाश में हैं.

पहले लालू यादव, फिर राबड़ी और तेजस्वी से मिले शत्रुघ्न सिन्हा, क्या हैं मुलाकात के मायने?
शत्रुघ्न सिन्हा ने पटना आकर लालू परिवार से मुलाकात की

नई दिल्ली : बीजेपी और बीजेपी नेताओं के खिलाफ खुलकर बोलने वाले बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के मन में इन दिनों लालू प्रेम उमड़ रहा है. चारा घोटाले में जेल की सजा काट रहे बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव इन दिनों गिरती सेहत के कारण रांची के रिम्स अस्पताल में भर्ती हैं. रविवार को पहले तो शत्रुघ्न सिन्हा अस्पताल में जाकर आरजेडी प्रमुख लालू से मिले और उनकी खुलकर तारीफ की. इसके बाद बीजेपी सांसद पटना स्थित आरजेडी प्रमुख के घर पहुंचे और वहां राबड़ी देवी और उनके बेटे तेजस्वी और तेजप्रताप यादव से मुलाकात की. 

क्या नया आशियाना तलाश रहे हैं सिन्हा
राजनीति गलियारों में शत्रुघ्न सिन्हा की लालू परिवार से मुलाकात के कई अर्थ निकाले जा रहे हैं. बिहार में हाल ही में अररिया लोकसभा और जहानाबाद विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में आरजेडी को मिली जीत के बाद बिहार की राजनीति में नीतीश और बीजेपी गठबंधन के खिलाफ विसात बिछने लगी है. चारा घोटाले में जेल जाने के बाद बिहार में लालू परिवार के प्रति फिर से संवेदनाओं की लहर उठने लगी हैं. बताया जा रहा है कि बीजेपी से हमेशा 36 का आंकड़ा रखने वाले शत्रुघ्न सिन्हा अपने लिए नए ठौर की तलाश में हैं और इसलिए वे लालू परिवार के साथ नजदीकियां बढ़ा रहे हैं. 

लालू से मिले शॉटगन
रांची के रिम्स अस्पताल में लालू यादव से मिलने गए शत्रुघ्न सिन्हा के साथ सपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष किरणमय नंदा थे. लालू से मिलने शत्रुघ्न ने उनकी खूब प्रशंसा की और कहा कि जनता का प्यार और आशीर्वाद उनके साथ है. वे ना केवल जल्द स्वस्थ्य होंगे, बल्कि जेल से भी उन्हें जल्दी ही इंसाफ भी मिलेगा. सिन्हा ने कहा, लालू प्रसाद जमीन से जुड़े नेता हैं और उनका उनसे शुरू से ही घनिष्ठ संबंध रहा है, हम लोग परिवार जैसे हैं. 

राबड़ी से मिलने पटना पहुंचे सिन्हा
अस्पताल में लालू यादव से मिलने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा सीधे पटना स्थित उनके घर गए और वहां उनकी पत्नी राबड़ी देवी और लालू के दोनों बेटे तेजस्वी यादव तथा तेजप्रताप यादव से मुलाकात की. जानकार बताते हैं कि एक घंटे के अधिक चली इस मुलाकात में शुत्रघ्न सिन्हा ने बिहार की राजनीति पर भी चर्चा की.