बिहारः धर्म परिवर्तन का आरोप लगाकर पादरी के साथ मारपीट

पादरी जोसेफ और उनके अनुयायी बेतिया के जेम्स सेंट पॉल चर्च में आयोजित प्रार्थना सभा में भाग लेने जा रहे थे. उसी बस में बैठे एक यात्री ने अनुयायियों से पूछा कि वे कहां जा रहे हैं. 

बिहारः धर्म परिवर्तन का आरोप लगाकर पादरी के साथ मारपीट
प्रतीकात्मक तस्वीर (फाइल डीएनए)

बेतियाः बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले के बस स्टैण्ड में सोमवार को असामाजिक तत्वों ने धर्म परिवर्तन करने का आरोप लगाते हुए एक चर्च के पादरी और उनके कुछ अनुयायियों के साथ मारपीट की. पुलिस अधीक्षक जयंतकांत ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने घटनास्थल पहुंचकर हालात पर काबू पा लिया. उन्होंने बताया कि हमलावरों ने आरोप लगाया है कि पादरी और उनके अनुयायी धर्म परिवर्तन करा रहे थे. जयंतकांत ने कहा कि पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी.

पादरी जोसेफ और उनके अनुयायी बेतिया के जेम्स सेंट पॉल चर्च में आयोजित प्रार्थना सभा में भाग लेने जा रहे थे. उसी बस में बैठे एक यात्री ने अनुयायियों से पूछा कि वे कहां जा रहे हैं. बाद में जब बस बेतिया शहर में प्रवेश करने लगी तब उक्त यात्री ने शोर मचाना शुरू कर दिया.

यह भी पढ़ेंः कोलकाताः मुस्लिम परिवार के 14 लोगों का हो रहा था कथित धर्म परिवर्तन, सवाल करने पर पत्रकारों की पिटाई

बस के स्टैण्ड पहुंची तभी दर्जनों बाइक पर सवार युवकों व अन्य लोगों ने जोसेफ के महिला एवं पुरुष अनुयायियों को घेर लिया और उनके साथ मारपीट करने लगे. घटना की सूचना मिलते ही नगर थानाध्यक्ष नित्यानंद चौहान दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे और जोसेफ और उनके अनुयायियों को अपने साथ थाना लाये.

ZEE Exclusive: हाईप्रोफाइल मुजरिमों का ऐसे 'अतिथि सत्कार' करती है पुलिस!
भारत में अतिथि को भगवान माना जाता है. हालात यह है कि इसका असर पुलिस पर भी दिखने लगा है. पुलिस भी मुजरिम को अतिथि मानकर हवालात की जगह रेस्टोरेंट और रेस्ट हाउस में उनका सत्कार कर रहे हैं. पुलिस का यह खास 'अतिथि सत्कार' इन दिनों सुर्खियों में है. खबर में दिखाई जा रही तस्वीरों से ही आप समझ जाएंगे कि पुलिस पर कितना दबाव है. जिस वजह से पुलिस अपराधिक घटना में गिरफ्तार किए हुए मुजरिम को किस ढंग से रेस्ट हाउस में ठहराते हैं और उनके साथ खुद सोते हैं साथ ही उनकी सुरक्षा के लिए दो पुलिस के जवान भी लगा दिए गए हैं.

इस केस में हुई थी गिरफ्तारी
जानकारी के मुताबिक मोकामा थाना में केस संख्या 195/17 दर्ज कराया गया था. जिसमें 4 साल पहले 9 दिसंबर 2012 को मोकामा थाना क्षेत्र के मोर गांव निवासी स्वर्गीय मुकेश सिंह की पुत्री राखी कुमारी की शादी पाटलिपुत्र कॉलोनी के वीरेंद्र सिंह के सुपुत्र सुमित सिंह के साथ हुई थी. शादी में अपनी हैसियत के मुताबिक दहेज भी दिया गया था. लेकिन, ससुराल में संबंध अच्छा नहीं रहा और पारिवारिक तनाव के कारण एक दूसरे पर मुकदमे का दौर शुरू हो गया. लड़का बिजनेसमैन है जो इन दिनों दिल्ली में है.