Bihar: वाहनों से सफर करने के लिए सरकार ने जारी की गाइडलाइन, इन जरूरी नियमों का करना होगा पालन

 सार्वजनिक एवं निजी परिवहन के वाहनों से सफर करने वाले यात्रियों के कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु परिवहन विभाग ने गाइडलाइन जारी कर दी है.

Bihar: वाहनों से सफर करने के लिए सरकार ने जारी की गाइडलाइन, इन जरूरी नियमों का करना होगा पालन
वाहनों से सफर करने के लिए सरकार ने जारी की गाइडलाइन (प्रतीकात्मक फोटो)

Patna: सार्वजनिक एवं निजी परिवहन के वाहनों से सफर करने वाले यात्रियों के कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु परिवहन विभाग ने गाइडलाइन जारी कर दी है. इसके अनुसार सार्वजनिक परिवहन के वाहनों में क्षमता के 50 प्रतिशत सीट पर ही यात्रियों को बैठाने की इजाजत होगी. इसके साथ ही सार्वजनिक एवं निजी परिवहन के वाहनों से सफर करने वाले सभी यात्रियों को मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है.

परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि सभी यात्रियों को मास्क, क्षमता के 50 प्रतिशत सीट पर यात्रियों को बैठाने एवं सार्वजनिक परिवहन के वाहनों से सफर करने वाले यात्रियों से यथोचित किराया लेना सुनिश्चित कराने के लिए सभी जिलों के जिलाधिकारी एवं जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है. इसके साथ ही मनमाना किराये लेने की जांच का निर्देश दिया है.   

कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने के लिए सार्वजनिक एवं निजी परिवहन के वाहनों में विशेष अभियान चलाया जाएगा. बिना मास्क सार्वजनिक एवं निजी वाहन में सफर करने वाले वाहन चालकों पर कार्रवाई की जाएगी.
 
परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि कोरोना का संक्रमण कुछ कम हुआ लेकिन खतरा अभी टला नहीं है. कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन कर सुरक्षित यात्रा कर सकते हैं. उन्होंने लोगों से अपील की है कि जब तक न हो जरुरी, यात्रा से रखें दूरी. भीड़-भाड़ से बचें एवं बहुत जरूरी हो तभी घर से बाहर निकलें. राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करें. 

ये भी पढ़ें- बिहार: मंत्री जनक राम के 'लेटर बम' से मचा हड़कंप, कांग्रेस बोली-आपदा में अवसर तलाश रही BJP

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बसों एवं अन्य वाहनों के परिचालन हेतु परिवहन सचिव द्वारा सभी जिला अधिकारी, वरीय पुलिस अधीक्षक/ पुलिस अधीक्षक, जिला परिवहन पदाधिकारी एवं एमवीआई को निम्नलिखित व्यवस्था सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है: -
 

  • जिला प्रशासन द्वारा अपने क्षेत्रान्तर्गत प्रत्येक बस स्टैंड/टैक्सी स्टैंड पर दंडाधिकारी के साथ पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की जाएगी, जो यह  सुनिश्चित करेगा कि बसों में सोशल डिस्टेंसिंग, साफ-सफाई संबंधी प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है, बसों/ अन्य वाहनों में निर्धारित क्षमता के अनुसार ही यात्री बैठाए जा रहे हैं एवं यात्रियों से यथोचित किराया ही वसूला जा रहा है.
  • वाहनों के परिचालन संबंधित यह निदेश परमिट के शर्तों के पार्ट माने जाएंगे एवं उल्लंघन की स्थिति में मोटर वाहन अधिनियम के साथ-साथ आपदा प्रबंधन अधिनियम की सुसंगत धाराओं के अधीन संबंधित चालक/वाहन मालिक के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी. 
  •  वाहनों में निर्धारित सीट के 50 प्रतिशत के अतिरिक्त एक भी यात्री नहीं लिया जाएगा, इसकी हिदायत वाहन मालिक अपने ड्राइवर एवं कंडक्टर को देंगे.
  •  बस स्टैंड/टैक्सी स्टैंड में यत्र-तत्र थूकना वर्जित होगा. पकड़े जाने पर दंड के भागी होंगे एवं कानूनी कार्रवाई की जाएगी.
  •  प्रत्येक यात्री के लिए यात्रा के दौरान मास्क पहनना अनिवार्य होगा.
  •  वाहन को प्रतिदिन धुलवाना तथा साफ सुथरा रखने एवं समय-समय पर सैनिटाइजेशन कराना सुनिश्चित करवाएंगे.
  •  ड्राइवर एवं कंडक्टर को साफ कपड़े एवं मास्क पहनने का निर्देश देंगे.
  • वाहनों के अंदर एवं बाहर कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के उपायों संबंधी पोस्टर स्टीकर लगवाएंगे.
  • वाहनों के अंदर चढ़ने उतरने के समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराया जाएगा.