बिहार के रेलवे स्टेशन व ट्रेनों में धमाके की फिराक में आतंकी संगठन ISI, जानें बिहार-झारखंड की आज की Top News

Bihar Jharkhand Top News: दरभंगा पार्सल ब्लास्ट के बाद अब एक और बड़े धमाके की फिराक में आतंकी संगठन आईएसआई. सुरक्षा एंजेसियों ने पटना रेलवे स्टेशन पर चलाया जांच अभियान और प्रदेश भर के स्टेशनों को अलर्ट पर रहने के लिए कहा है.  

बिहार के रेलवे स्टेशन व ट्रेनों में धमाके की फिराक में आतंकी संगठन ISI, जानें बिहार-झारखंड की आज की Top News
ट्रेनों में धमाके की फिराक में आतंकी संगठन ISI (File Photo)

Patna: बिहार में आतंकी संगठन ISI द्वारा रेलवे स्टेशन (ISI Trying to Blast)  पर बम विस्फोट की आशंका को देखते हुए सुरक्षा एजेंसियों (security agencies) ने अलर्ट जारी कर दिया है. सुरक्षा एजेंसी द्वारी जारी अलर्ट में प्रदेश के सभी स्टेशन पर आरपीएफ (RPF) को सतर्क रहने के लिए कहा गया है. दरअसल, पटना के रेल एसपी के निर्देश पर जीआरपी टीम के साथ कई पदाधिकारियों ने सुरक्षा के दृष्टिकोण से अभियान चलाया. इस दौरान पटना जंक्शन पर डॉग स्कॉयर्ड और बम स्कॉयर्ड की टीम पहुचीं. स्वतंत्रता दिवस से पहले धमाके की इनपुट व आशंका के तहत सुरक्षा एजेंसी पहले से ही इस तरह के अभियान चलाकर आतंकी व नक्सली संगठन के इरादे पर पानी फेरने का प्रयास कर रही है. इसके अलावा, बिहार व झारखंड की बड़ी खबरें यहां पढ़ें-

जनसंख्या कानून पर एनडीए में बगावत
जब केंद्र में यूपीए (UPA) की सरकार थी और जनता दल यूनाइटेड (JDU) बीजेपी (BJP) के सहयोगी दल के रूप में एनडीए (NDA) का हिस्सा थी, तब नीतीश कुमार (Nitish Kumar) और उनकी पार्टी हर मौके पर जरूर कहती थी कि बीजेपी और जेडीयू की विचारधारा अलग-अलग है. राम मंदिर, समान नागरिक संहिता और धारा 370 पर पार्टी बीजेपी से सहमति नहीं रखती और जेडीयू केवल ये कहती नहीं थी, जब भी मौका आता था जेडीयू मुखर होने से पीछे नहीं हटती थी. लेकिन बाद में हालात बदलते चले गए, पार्टी कमजोर होती चली गई और बीजेपी लगातार मजबूत होती चली गई. इधर, 2013 में बीजेपी गठबंधन को छोड़कर जेडीयू बाहर भी निकली फिर 2017 में दोबारा एनडीए में शामिल हुई. इस बीच बिहार की नदियों में ना जाने कितना पानी बह गया. जेडीयू विरोध तो करती थी लेकिन पार्टी नेताओं के पुराने तेवर कहीं नजर नहीं आते थे. अब जनसंख्या कानून का विरोध करके नीतीश कुमार ने अपना पुराना तेवर एक बार फिर दिखाया है.

बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले में आई कमी
बिहार की राजधानी पटना समेत 25 जिलों में सोमवार को दस से कम नए कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हुई. जबकि पूरे राज्य में 72 नए कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान सोमवार को हुई. 13 जिलों में एक भी नए संक्रमित मरीज नहीं मिले. इनमें अरवल, औरंगाबाद, बक्सर, जहानाबाद, कैमूर, लखीसराय, नवादा, रोहतास, सारण, शेखपुरा, शिवहर, सीतामढ़ी, सीवान शामिल हैं. 

बिहार में 15 जुलाई तक के लिए येलो अलर्ट
बिहार में मानसून आने के बाद से ही रूक-रूक कर प्रदेश के कई हिस्से में बारिश हो रही है. इसके साथ ही मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर बारिश होने की बात कही है. उत्तर बिहार में नमी का प्रवाह ज्यादा है, इसलिए दक्षिण बिहार की अपेक्षा वहां ज्यादा बारिश हो सकती है. यही वजह है कि प्रदेश में 15 जुलाई तक बारिश होने की बात कही गई है. 

बिहार में स्कूल-कॉलेज खुलने के बाद एक बार फिर से छात्र-छात्राओं के बीच देखने को मिली खुशी
बिहार में सोमवार से स्कूल व कॉलेज खुलने के बाद छात्र-छात्रा एक बार फिर से पढ़ाई के लिए अपने शिक्षण संस्थान पहुंचने लगे हैं. स्कूल में 50 फीसद उपस्थिति फिलहाल रखा गया है. स्कूल व कॉलेज आने वाले छात्रों के बीच भारी खुशी देखने को मिल रही है. 

झारखंड में माओवादियों ने किया IED ब्लास्ट, सुरक्षाकर्मी घायल
झारखंड के गुमला जिले में नक्सल हमले के दौरान कोबरा बटालियन 203 का एक जवान घायल हो गया है. यह घटना जिले के कुरुमगढ़ थाना क्षेत्र के मड़वा जंगल में मंगलवार की सुबह आठ बजे के करीब हुई. माओवादियों ने वहां आइईडी लगाया था। कोबरा जवान इसके धमाके की चपेट में आ गया.