कांग्रेस में टूट की खबरों को लेकर सियासत तेज, राजेश राठौड़ बोले-पार्टी के सभी विधायक एकजुट

Bihar Samachar: बिहार के कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास ने 2 दिन पटना में आकर विधायकों से मुलाकात की, साथ ही यह भरोसा दिलाया की पार्टी राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की अगुवाई में आगे बढ़ेगी ना कि टूटेगी.

कांग्रेस में टूट की खबरों को लेकर सियासत तेज, राजेश राठौड़ बोले-पार्टी के सभी विधायक एकजुट
कांग्रेस में टूट की खबरों को लेकर सियासत तेज. (फाइल फोटो)

Patna: बिहार की राजनीति में प्रतिदिन उठापटक जारी है. पहले एलजेपी (LJP) को लेकर राजनीति गरमाई तो अब कांग्रेस (Congress) के टूटने का डर है. यही कारण है कि बिहार के कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास ने 2 दिन पटना में आकर विधायकों से मुलाकात की, साथ ही यह भरोसा दिलाया की पार्टी राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की अगुवाई में आगे बढ़ेगी ना कि टूटेगी. 

वहीं, इसे लेकर अब राजनीति शुरू हो गई है. जहां एक तरफ जदयू (JDU) महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष और प्रवक्ता डॉक्टर तारा श्वेता आर्य (Dr. Tara Shweta Arya) ने कांग्रेस को नसीहत देते हुए कहा कि 'जिसके घर शीशे के हों उन्हें दूसरों के घर पर पत्थर नहीं मारना चाहिए. जदयू के कुशल नेतृत्व और प्रबंधन के कारण ही दूसरे दलों के नेता जेडीयू के साथ आना चाहते हैं. कांग्रेस हो या फिर लोजपा, उसको यह समझने की जरूरत है कि बिहार के विकास पुरूष नीतीश कुमार (Nitish Kumar) और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह  (Ram Chandra Prasad Singh)  के प्रबंधन से प्रभावित होकर लोग आ रहे हैं, किसी भी टूट-फूट में जेडीयू का कोई हाथ नहीं है.'

ये भी पढ़ें- बिहार में कांग्रेस पार्टी में जान फूंकने को तैयार आलाकमान! नई रणनीति को लेकर हो सकती है चर्चा

डॉक्टर आर्य ने कहा कि 'कांग्रेस से जो खबरें आ रही हैं वह कांग्रेस के अंदरूनी नेतृत्व से नाराजगी का नतीजा है ना की किसी दूसरे का हाथ है.' तो वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस विधायक को दिल्ली में आलाकमान के पास आने वाले दिनों में परेड कराए जाने की खबर को लेकर कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौड़ (Rajesh Rathore) ने अपने बयान में कहा कि '2015 के बाद यही कयास लगाए जा रहे थे कि कांग्रेस टूट जाएगा लेकिन सभी MLA मजबूती के साथ रहे. 2 दिन प्रभारी भक्त चरण दास बिहार रहे हैं, कांग्रेस के तमाम विधायक उनसे जाकर मिल चुके हैं. संगठन के विस्तार के लिए दिल्ली में नेताओं को बुलाया गया है. दिल्ली में कोई परेड नहीं होने वाली है. भक्त चरण दास ने साफ कर दिया है कि पार्टी के सभी एमएलए एक साथ हैं.'

इधर, बिहार कांग्रेस में टूट का डर सताए जाने और कांग्रेस विधायकों के परेड कराए जाने की खबर को लेकर BJP MLA अरुण सिन्हा (Arun Sinah)  ने कहा कि 'जो छली होते हैं उनके मन मे संदेह भी खूब होता है तो कांग्रेस की यही नीति बन गई है. पहले के जमाने में जो स्वत्रंता के बाद आई वह अलग कांग्रेस थी लेकिन आज की कांग्रेस छल, बल और भ्रष्टाचार का परिचायक बनती जा रही है. यही कारण है की अपने लोगों में भी छली दिखाई दे रहा है.'

जेडीयू नेता माधव आनंद ने इसे विचित्र परिस्थिति बताते हुए कहा कि 'कांग्रेस में कोई रणनीति नहीं है.' तो वहीं, भारतीय पंचायती राज पार्टी लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन (Rajeev Ranjan) ने बिहार में चल रही उठापटक पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि 'अगर किसी भी दल के विधायक दूसरे दल में जाने का मन बना रहे हैं तो यह उस विधानसभा क्षेत्र के लोगों के प्रति धोखा कहा जाएगा जहां से जीतकर वह विधायक बने हैं. जो भी विधायक विधानसभा से जीते हैं वहां की जनता ने उन पर और उनके सिंबल पर यकीन किया है और विधायक अपनी सुविधा से यदि कहीं और जाने का मन बनाते हैं तो यह सीधे तौर पर कहीं ना कहीं वहां की जनता से धोखा होगा.'