बिहार-झारखंड के CBSE के छात्रों के लिए बड़ी खबर, एग्जाम को लेकर आई बड़ी Update

सीबीएसई (CBSE) ने बोर्ड परीक्षाओं के लिए लिस्ट आफ केंडिडेट (LoC) एकत्र करना शुरू कर दिया है.एलओसी के बाद बोर्ड 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा के पहले चरण की डेट शीट की घोषणा करेगा.

बिहार-झारखंड के CBSE के छात्रों के लिए बड़ी खबर, एग्जाम को लेकर आई बड़ी Update
बिहार-झारखंड के CBSE के छात्रों के लिए बड़ी खबर (फाइल फोटो)

Patna: सीबीएसई (CBSE) ने बोर्ड परीक्षाओं के लिए लिस्ट आफ केंडिडेट (LoC) एकत्र करना शुरू कर दिया है.एलओसी के बाद बोर्ड 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा के पहले चरण की डेट शीट की घोषणा करेगा.

दो पारियों में एग्जाम की तैयारी 

सीबीएसई (CBSE) इस वर्ष दो पारियों में बोर्ड परीक्षाएं लेने जा रहा है.प्रथम चरण की बोर्ड परीक्षाएं नवंबर व दिसंबर महीने में ली जाएंगी.प्रथम चरण की परीक्षाओं में केवल एमसीक्यू पैटर्न के आधार पर 90 मिनट की परीक्षा की योजना तैयार की गई है.इन बोर्ड परीक्षाओं में छात्रों को ऑनलाइन टेस्ट का विकल्प नहीं दिया जाएगा.

एकत्र कर रहा है डाटा 

सीबीएसई (CBSE) बोर्ड फिलहाल 10वीं एवं 12वीं कक्षा के छात्रों का ब्यौरा एकत्र कर रहा है.इस संदर्भ में सीबीएसई बोर्ड ने देशभर के स्कूलों के लिए एक नोटिस जारी किया है.नोटिस में सीबीएसई ने स्पष्ट किया है कि सभी स्कूलों को तय समय में छात्रों की जानकारी लिस्ट ऑफ कैडिडेट्स यानी एलओसी बनाकर बोर्ड को भेजनी है.

17 सितंबर सेशुरू होगी प्रक्रिया

यह प्रक्रिया शुक्रवार यानी 17 सितंबर से शुरू हो गई है.इस माह के अंत यानी 30 सितंबर तक देशभर के सभी सीबीएसई स्कूल बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले अपने छात्रों का ब्यौरा सीबीएसई को भेज सकते हैं.यह ब्यौरा ऑनलाइन माध्यम से बोर्ड को भेजा जाएगा.

पहले चरण की बोर्ड परीक्षाओं में मल्टीपल च्वाइस क्वेश्चन (एमसीक्यू) होंगे.इनमें केस-बेस्ड एमसीक्यू रीजनिंग टाइप प्रश्न होंगे.परीक्षा की अवधि 90 मिनट है.प्रथम चरण की परीक्षाओं में सिलेबस का 50 प्रतिशत शामिल है.छात्र रिवाइज्ड सिलेबस 2021-22 सीबीएसई की बेवसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें- 10वीं पास बिहार-झारखंड के युवाओं के लिए शानदार मौका! बिना परीक्षा-इंटरव्यू के मिलेगी सरकारी नौकरी, यहां पढ़ें Details

सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज के मुताबिक पहली परीक्षा नवंबर-दिसंबर, 2021 में चार से आठ सप्ताह की समय सीमा में आयोजित की जाएगी.दूसरी परीक्षा मार्च-अप्रैल में आयोजित की जाएगी.यह परीक्षाएं बाहर से आए परीक्षकों और सीबीएसई द्वारा नियुक्त पर्यवेक्षकों की निगरानी में होंगी.

ये भी पढ़ें- IGNOU Admission 2021: बिहार-झारखंड के छात्रों को मिली बड़ी राहत, इग्नू ने बढ़ाई रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि

सीबीएसई बोर्ड का कहना है कि पहले चरण की परीक्षाओं की तैयारियों को देखते हुए बोर्ड ने सभी स्कूलों और प्रधानाचार्यों को उम्मीदवारों की सूची जमा करने का निर्देश दिया है. देशभर के ऐसे सभी स्कूल जो सीबीएसई से एफिलिएटिड है वे अब अपनी आधिकारिक लिस्ट सीबीएसई के संबंधित पोर्टल पर अपलोड कर सकेंगे.सीबीएसई के मुताबिक स्कूलों के लिए यह सुविधा 30 सितंबर तक जारी रहेगी.

(इनपुट: आईएएनएस)