close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार विधानमंडल के बजट सत्र में काम कम हंगामा ज्यादा

बिहार विधानमंडल का बजट सत्र में अब तक हंगामा ही हंगामा हो रहा है. अब मात्र 5 दिन सत्र समाप्त होने के बचे हैं लेकिन सदन में काम कम और संग्राम ज्यादा हो रहा है.

बिहार विधानमंडल के बजट सत्र में काम कम हंगामा ज्यादा
बिहार विधानसभा के अंदर और बाहर विपक्ष का हंगामा.

पटनाः बिहार विधानमंडल का बजट सत्र में अब तक हंगामा ही हंगामा हो रहा है. अब मात्र 5 दिन सत्र समाप्त होने के बचे हैं लेकिन सदन में काम कम और संग्राम ज्यादा हो रहा है. सदन में आरोप और प्रत्यारोप का दौर जारी है. विपक्ष की ओर से सदन को चलने नहीं दिया जा रहा है. विपक्ष किसी न किसी मुद्दे पर सदन को चलने से रोक रही है. बीते दिन सोमवार को भी सदन के अंदर और बाहर हंगामा होता रहा. केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अरिजित शाश्वत कि गिरफ्तारी को लेकर काफी हंगामा हुआ. सदन के अंदर हंगामा और सदन के बाहर नारेबाजी होते रही. इसके साथ ही मंगलवार (27 मार्च) को भी सदन में हंगामा दिखा. हंगामे की वजह से सदन के शुरू होते ही दोपहर 2 बजे तक स्थगित कर दिया गया.

सदन के अंदर विपक्ष ने सरकार पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया. विपक्ष ने कहा कि दलित कानून में संशोधन के बावजूद भी कोई सरकार कुछ नहीं कर रही है. विपक्ष के सदस्यों ने सदन के बाहर भी पोस्टर और बैनर लेकर नारेबाजी की. विपक्ष के नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने सदन के बाहर कहा कि सरकार बेलगाम हो गई है. उन्होंने आरोप लगाया कि उन्हें सदन में बोलने नहीं दिया गया. वह अपनी बात रखना चाहते थे लेकिन उनका माइक ऑफ कर दिया गया.

नियोजित शिक्षकों के वेतन पर अब 12 जुलाई को होगी SC में अंतिम सुनवाई

तेजस्वी यादव ने सदन के बाहर सरकार के कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि प्रदेश में पत्रकार सुरक्षित नहीं है. साथ ही कहा दलित कानून में संशोधन कर उनके हक को छीना जा रहा है. सरकार पर आरोप लगाया कि प्रदेश की सरकार नागपुर और दिल्ली से चलाया जा रहा है.

रांची : लालू यादव को AIIMS ले जाने की मिली मंजूरी 

वहीं बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री रावड़ी देवी ने भी सरकार पर आरोप लगाया कि प्रदेश में कानून व्यवस्था लचर हो गई है. वहीं अरिजित शाश्वत की गिरफ्तारी पर सवाल उठाते हुए कहा कि कानून कमजोर हो गया है और प्रदेश में अत्याचार बढ़ गया है.

24 घंटे फ्लाइट सर्विस शुरू होने के बाद बढ़ाई गई पटना एयरपोर्ट की सुरक्षा

गौरतलब है कि बजट सत्र अब 3 अप्रैल तक ही चलेगा जबकि यह 4 अप्रैल तक चलना था. हंगामां होने के कारण इस बार बजट सत्र में कोई काम नहीं हो पाया है. हालांकि यह पहली बार नहीं है कि सदन की कार्यवाही हंगामें की भेंट चढ़ा है. लेकिन सवाल यह है कि सदन में हंगामा कब तक? हर रोज हंगामा ही होता रहा तो काम कब होगा?