बिहार: शिक्षक भर्ती में दिव्यांगों को मिलेगा 4 फीसदी आरक्षण, जानें आवेदन की आखिरी तारीख

Bihar Samachar: गुरुवार को पटना हाईकोर्ट ने छठे चरण में सवा लाख शिक्षक नियोजन पर लगी रोक हटा दी थी.  

बिहार: शिक्षक भर्ती में दिव्यांगों को मिलेगा 4 फीसदी आरक्षण, जानें आवेदन की आखिरी तारीख
बिहार में शिक्षक जॉब में दिव्यांगों के लिए वेकैंसी (फाइल फोटो)

Patna: बिहार शिक्षा विभाग ने दिव्यांगजनों के लिए सवा लाख शिक्षकों के नियोजन में 4 फीसदी आरक्षण की अधिसूचना जारी कर  दी है.  कल पटना हाईकोर्ट ने छठे चरण में सवा लाख शिक्षक नियोजन पर लगी रोक हटा दी थी. कोर्ट में शिक्षा विभाग ने कहा था कि वो 4 फीसदी आरक्षण देने के लिए तैयार है. 

शुक्रवार को विभाग ने इसके लिए अधिसूचना जारी कर  दी. इस अधिसूचना का लाभ सिर्फ दिव्यांग अभ्यर्थियों को ही मिलेगा. विभाग ने दिव्यांग अभ्यर्थियों के आवेदन के लिए दो हफ्ते का समय दिया है. यहां ये जानना जरूरी है कि जो दिव्यांगजन पहले आवेदन कर चुके हैं अब उन्हें दोबारा आवेदन की जरूरत नहीं होगी.

11 जून से 15 जून तक दिव्यांग अभ्यर्थी आवेदन दे सकेंगे. इससे पहले राज्य के सभी 38 जिलों के जिला शिक्षा पदाधिकारी यानी डीईओ को भी विभाग की तरफ से निर्देश दे दिया गया है. उन्हें निर्देश मिला है वो संबंधित जिलों के एनआईसी के वेब पोर्टल पर इकाईवार, विषय और कोटिवार नियोजन की सूचना अलग-अलग अखबारों में निकाले गए.

एक नजर अहम तिथियों पर
डीईओ दिव्यांगजन अभ्यर्थियों के संबंध में जिले की  एनआईसी के वेब पोर्टल पर इकाईवार, विषय और कोटिवार नियोजन की सूचना अलग-अलग अखबारों में 9 जून 2021 तक प्रकाशित करेंगे. दिव्यांग अभ्यर्थी 11 जून से 25 जून तक आवेदन करें.
 

अभ्यर्थी कहां और कैसे करेंगे आवेदन?

ऑनलाइन प्रक्रिया नहीं होने के कारण अभ्यर्थी अलग-अलग सरकारी दफ्तरों में रजिस्टर्ड डाक या हाथों हाथ आवेदन देंगे. उदाहरण के लिए जिला परिषद के तहत आने वाले अभ्यर्थी उप विकास आयुक्त सह मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी, जिला परिषद या नगर निकाय के तहत आने वाले अभ्यर्थी नगर निकाय के कार्यपालक पदाधिकारी के दफ्तर में हाथों हाथ या रजिस्टर्ड डाक से आवेदन जमा करेंगे.

एक नजर नियोजन इकाई में नियोजन वाले पद पर

प्रारंभिक विद्यालयों में साल 2019-2020 में शिक्षक नियोजन के लिए 22 नवंबर 2019 को अधिसूचना शिक्षा विभाग की तरफ से जारी की गई थी. 23 नवंबर तक नियोजन के लिए आवेदन देने की तारीख तय की गई थी.

जिला परिषद और नगर निकाय के तहत आने वाले माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में नियोजन के लिए 1 जुलाई 2019 को अधिसूचना विभाग की तरफ से जारी की गई थी. इसमें आवेदन की आखिरी तारीख 26 सितंबर 2019 तय की गई थी.

हालांकि नियोजन में दिव्यांगों के लिए अलग से 4 फीसदी तयशुदा आरक्षण था उस मानकों का पालन नहीं किया गया था. इसी आरक्षण को लेकर नेशनल फेडरेशन ऑफ ब्लाइंड ने हाईकोर्ट में पिछले साल अर्जी दायर की थी.

बहाली के बाद राज्य में 4 लाख से अधिक होगी शिक्षकों की संख्या 
94 हजार प्रारंभिक शिक्षकों की बहाली होनी है. इसके अलावा राज्य में 1 लाख 24 हजार नियोजन छठे दौर में होना है. अभी राज्य में 3 लाख 52 हजार नियोजित शिक्षक है. छठे दौर के नियोजन पूरे होने पर राज्यभर में ऐसे शिक्षकों की संख्या 4 लाख 76 हजार हो जाएगी.

शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने ये कहा
शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने बातचीत में कहा कि, एक बार छठे दौर का नियोजन पूरा हो जाए तो फिर माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों का भी नियोजन शुरू होगा.