पति पप्पू यादव से मिली रंजीत रंजन, कहा-यहां कोविड से बचे तो डेंगू-मलेरिया से मौत निश्चित

Supaul Samachar: रंजीत रंजन ने कहा कि वे पप्पू यादव के वीआईपी कहे जानेवाले कमरे में जाकर बैठी थीं. उनका मन हुआ कि वे वहां की तस्वीर लेकर ट्विट करें. 

पति पप्पू यादव से मिली रंजीत रंजन, कहा-यहां कोविड से बचे तो डेंगू-मलेरिया से मौत निश्चित
पति पप्पू यादव से मिली रंजीत रंजन. (फाइल फोटो)

Supaul: सुपौल के वीरपुर जेल से इलाज के लिए DMCH लाए गए जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव से उनकी पत्नी और पूर्व सांसद रंजीत रंजन ने गुरुवार की देर रात मुलाकात की. वे पटना से पति से मिलने दरभंगा पहुंची थीं. उनके साथ कई कार्यकर्ता भी मौजूद थे. उन्होंने कहा कि डीएमसीएच में बेहद खराब व्यवस्था है.

रंजीत रंजन ने डीएमसीएच में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि 'बिहार के मुख्यमंत्री साहब और स्वास्थ्य मंत्री से पूछिए कि मेडिसिन वार्ड के पीछे की ही बिल्डिंग में 20-25 मौतें कोरोना से हो रही हैं, लाशें निकल रही हैं.' 

दरअसल, उनके पति को मेडिसिन वार्ड के 12 बाई 8 के रूम में रखा गया है. जब वे वहां गई थीं तो उन्होंने देखा कि 6-7 लोग वहां आ-जा रहे हैं. पप्पू यादव के आने के बाद ही उस रूम में टॉयलेट की मरम्मत की जा रही है.

ये भी पढ़ें- नीतीश सरकार के समर्थन में आए तेज प्रताप यादव! कहा-बहुत बढ़िया लेकिन...

उन्होंने कहा कि 'उनके पति कोरोना पॉजिटिव हैं कि नेगेटिव ये किसी को पता नहीं है. उनको हायर मेडिकल फैसिलिटी देने की बात कही गई थी, लेकिन बिहार सरकार ने तय किया कि दरभंगा के डीएमसीएच में उन्हें भर्ती किया जाए.' उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि 'ऐसा लगता है कि ये बिहार का बेस्ट हॉस्पिटल है इसलिए पप्पू यादव को यहां भर्ती कराया गया.'

रंजीत रंजन ने कहा कि वे पप्पू यादव के वीआईपी कहे जानेवाले कमरे में जाकर बैठी थीं. उनका मन हुआ कि वे वहां की तस्वीर लेकर ट्विट करें. उन्होंने कहा कि '12 बाई 8 के उस रूम में एक-एक इंच मोटे मच्छर हैं. यहां आदमी कोविड से नहीं मरेगा तो डेंगू और मलेरिया से मर जाएगा.' 

उन्होंने कहा कि 'पप्पू यादव के एक रूम को छोड़ कर आईसीयू है जहां बाहर मरीज बैठे हुए हैं. उनके रूम के बगल में नाला है जहां से मच्छर निकल कर रूम में प्रवेश कर रहे हैं. कहा जा रहा है कि ये वीआईपी वार्ड है लेकिन यहां कोई सुविधा नहीं है.'

(इनपुट- मोहन प्रकाश)