लापरवाही की इंतहा : LNMU में छात्रा के एडमिट कार्ड से छेड़छाड़, लगा दी अश्लील तस्वीर

ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी (एलएनएमयू) में मधुबनी की एक छात्रा के एडमिट कार्ड पर परीक्षार्थी की जगह अश्लील तस्वीर लगा दी गई. मामला तब सामने आया, जब छात्रा ने इंटरनेट से अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड की.

लापरवाही की इंतहा : LNMU में छात्रा के एडमिट कार्ड से छेड़छाड़, लगा दी अश्लील तस्वीर
LNMU में एडमिट कार्ड पर परीक्षार्थी की जगह लगा दी अश्लील तस्वीर.

पटना : दरभंगा के ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी (एलएनएमयू) की लापरवाही तब सामने आई, जब एक छात्रा के एडमिट कार्ड पर परीक्षार्थी की जगह अश्लील तस्वीर लगा दी गई. मामला तब सामने आया, जब छात्रा ने इंटरनेट से अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड की. वैसे एलएनएमयू की लापरवाही इससे पहले भी कई बार उजागर हो चुकी है, लेकिन यूनिवर्सिटी प्रशासन सचेत होने का नाम नहीं ले रहा है.

मधुबनी जिला के खजौली गांव की रहने वाली रूपा (परिवर्तित नाम) एसएमजे कॉलेज खाजेडीह में ग्रेजुएशन (फाइनल इयर) में पढ़ती है, जिसकी परीक्षा आज (10 अप्रैल) से शुरू हो रही है. परीक्षा में शामिल होने के लिए जब रूपा ने एडमिट कार्ड डाउनलोड किया तो उसके होश उड़ गए. प्रवेश पत्र पर परीक्षार्थी की फोटो के जगह अश्लील तस्वीर लगी थी.

एडमिट कार्ड में सुधार करवाने के लिए जब अपने परिजन के साथ रूपा कॉलेज पहुंची तो कॉलेज प्रशासन ने सुधार करवाने के लिए 1500 रुपये का फरमान सुना दिया गया. मीडिया में खबर आने के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन की नींद खुली और रूपा के एडमिट कार्ड में सुधार किया गया.

पढ़ें- NIRF की रैंकिंग में पटना के कॉलेजों का खराब प्रदर्शन, 24वें स्थान पर रहा IIT

एलएनएमयू में इससे पहले भी हो चुके हैं कारनामे
एलएनएमयू में इससे पहले भी कई बार लापरवाही की बात सामने आ चुकी है. कुछ वर्ष पहले पूर्व कुलपति साकेत कुशवाहा के कार्यकाल में भी थर्ड पार्ट के परीक्षा के दौरान एक छात्र के अंक में गड़बड़ी का मामला उजागड़ हुआ था. 25 अंकों की परीक्षा में उसे 40 अंक दे दिए गए थे. इतना ही नहीं एकबार तो छात्र ने परीक्षा दिया अकाउंट ऑनर्स का और यूनिवर्सिटी ने उसे मार्केटिंग ऑनर्स का रिजल्ट थमा दिया. नए कुलपति प्रो. सुरेंद्र कुमार सिंह के आने के बाद भी लापरवाही का सिलसिला जारी है. इससे पहले भी एडमिट कार्ड पर छात्र की तस्वीर की जगह भगवान गणेश की तस्वीर लगा दी गई थी.

वहीं, इस मामले पर जब परीक्षा नियंत्रक कुलानंद यादव का कहना है कि एडमिट कार्ड पर अश्लील तस्वीर की जानकारी मिलते ही उस फोटो को हटा दिया गया है. साथ ही उन्होंने संबंधित एजेंसी से इस बाबात जवाब मांगने और जांच कराने की बात कही.