बिहार को मिला मोदी सरकार का साथ, मंगल पांडेय बोले- केंद्र ने भेजा 7409 रेमडेसिवीर इंजेक्शन

Bihar News: मंगल पांडेय ने कहा कि बिहार को केंद्र सरकार से 150 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर (5 एलपीएम), 3 लाख 90 हजार एंटीजन किट, 90 डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर, 212 बाइपैप मशीन एसेसरीज के साथ एवं 7409 रेमडेसिवीर इंजेक्शन प्राप्त हुआ है.  

बिहार को मिला मोदी सरकार का साथ, मंगल पांडेय बोले- केंद्र ने भेजा 7409 रेमडेसिवीर इंजेक्शन
मंगल पांडेय बोले कि कोरोना से लड़ने में केंद्र सरकार का पूरा साथ मिल रहा है

Patna: बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने रविवार को बताया कि राज्य में कोरोना महामारी से निपटने के लिए केंद्र सरकार का अपेक्षित सहयोग मिल रहा है. संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा लगातार बिहार को आवश्यक सामग्री और जीवन रक्षक दवाओं के अलावे ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है.

गत दिनों बिहार को केंद्र सरकार से 150 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर (5 एलपीएम), 3 लाख 90 हजार एंटीजन किट, 90 डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर, 212 बाइपैप मशीन एसेसरीज के साथ एवं 7409 रेमडेसिवीर इंजेक्शन प्राप्त हुआ है. 

मंगल पांडेय ने बताया कि कोरोना काल में राज्यवासियों को बेहतर उपचार देने के लिए तीन महीने के लिए अस्थायी तौर एक हजार विशेषज्ञ और सामान्य चिकित्साकर्मियों, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ और लैब टेक्निशियन के अलावे अतिरिक्त मानव बल की नियुक्ति जिलों में शुरू हो जायेगी.

ये भी पढ़ें- जब बिहार के एक विधानसभा सीट पर मां-बेटे के बीच हुई चुनावी जंग, जानें क्या रहा था परिणाम

सभी जिलों और मेडिकल कालेज एवं अस्पतालों में 10 मई को वाॅक-इन-इंटरव्यू के आधार पर डॉक्टरों की नियुक्ति की जाएगी. वहीं, रविवार से शुरू 18 से 44 वर्ग के आयु वाले लोगों के टीकाकरण को लेकर भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा व्यापक तैयारी की गई है.लोगों के पंजीकरण का काम भी तेजी से चल रहा है. कुल 624 केंद्रों पर राज्य में 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों का टीकाकरण हुआ है.

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि 15 हजार रेमडेसिवीर इंजेक्शन का डोज जिलों में भेजा गया है. केंद्र से रेमडेसिविर इंजेक्शन का कोटा 16 मई तक बढ़ाकर एक लाख 50 हजार कर दिया गया है. अन्य आवश्यक उपकरण एवं दवा भी केंद्र सरकार से मांगा गया है. 

साथ ही मंगल पांडेय ने यह भी कहा कि बिहार सरकार प्रदेश के लोगों को ऑक्सीजन समेत अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी न हो इसके लिए लगातार प्रयास कर रही है. कोरोना से निपटने के लिए सरकार की तैयारी पूरी है. राज्य में 18 से 44 आयु वाले लोगों का टीकाकरण शुरू हो गया है.