close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नीतीश कुमार ने दिया पूर्व सुरक्षा बहाल करने का निर्देश, राबड़ी ने कहा पहले चाहिए रिपोर्ट

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कर्नाटक से लौटन के बाद सुरक्षा हटाये जाने वाले मामले के लिए राबड़ी देवी द्वारा लिखे गए पत्र का खुद संज्ञान लिया और पूर्व की तरह सुरक्षा बहाल करने का निर्देश दिया. 

नीतीश कुमार ने दिया पूर्व सुरक्षा बहाल करने का निर्देश, राबड़ी ने कहा पहले चाहिए रिपोर्ट
राबड़ी देवी ने सुरक्षा लेने से इनकार किया है.

पटनाः बिहार में राबड़ी देवी के सुरक्षा व्यवस्था और सुरक्षाकर्मियों पर सियासत जारी है. जहां एक ओर आरजेडी सुरक्षा की कमी किये जाने पर नीतीश सरकार को घेरना चाहती है. वहीं, इस मामले को मुख्यमंत्री ने अपने संज्ञान में लेते हुए राबड़ी देवी के आवास पर फिर से पूर्व सुरक्षा को बहाल करने का निर्देश दिया है. हालांकि बुधवार को एडीजी (हेडक्वाटर) एसके सिंघल ने मीडिया से कहा था कि केवल लालू प्रसाद यादव के लिए लगाए गए सुरक्षाकर्मियों को हटाया गया है. जो अभी चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता हैं. और सभी गणमान्य लोगों के लिए भी पूरी सुरक्षा का प्रबंध किया गया है. इस दौरान राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव ने अपने लिए लगाए गए सुरक्षाकर्मियों को वापस कर दिया था. जिसके बाद राज्य पुलिस मुख्यालय के अलावा पटना पुलिस अलर्ट पर है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कर्नाटक से लौटन के बाद सुरक्षा हटाये जाने वाले मामले के लिए राबड़ी देवी द्वारा लिखे गए पत्र का खुद संज्ञान लिया और पूर्व की तरह सुरक्षा बहाल करने का निर्देश दिया. नीतीश कुमार ने इस मामले में अपनी नाराजगी जाहिर की.

बिना किसी नौकरी-व्यवसाय के तेजस्वी 750 करोड़ के मॉल के मालिक कैसे बन गए: सुशील मोदी

वहीं, सरकार द्वारा फिर से सुरक्षाकर्मियों को बहाल करने के निर्देश को पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने झूठा निर्देश बताते हुए कहा कि हमारे पास कोई सुरक्षा नहीं आयी है और हमें कोई सुरक्षा नहीं चाहिए. उन्होंने कहा कि मुझे पहले रिपोर्ट चाहिए कि किस आदेश के बाद उनके आवास से सुरक्षा हटायी गई. रिपोर्ट मिलने के बाद हम सुरक्षा लेने के बारे में सोचेंगे.

आरएलएसपी कर रही है आक्रोश रैली, उपेंद्र कुशवाहा के लिए जेड प्लस सुरक्षा की मांग

इसके अलावा पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वा यादव ने भी नीतीश कुमार पर निशाना साधा और कहा कि होम डिपार्टमेंट उनके पास है तो सुरक्षा हटाने का आदेश किसने दिया. हमें पूरा लिखित रिपोर्ट चाहिए. उन्होंने नीतीश कुमार पर द्वेष की राजनीति का भी आरोप लगाया.