बांग्लादेशियों के लिए डिटेंशन सेंटर न होने को लेकर Patna HC नाराज, गृह मंत्रालय से मांगा जवाब

बिहार में अवैध तरीके से घुसे बांग्लादेशी नागरिकों के लिए डिटेंशन सेंटर नही होने पर पटना हाई कोर्ट ने अपनी नाराजगी जताई है. 

बांग्लादेशियों के लिए डिटेंशन सेंटर न होने को लेकर Patna HC नाराज, गृह मंत्रालय से मांगा जवाब
डिटेंशन सेंटर न होने को लेकर Patna HC नाराज (प्रतीकात्मक फोटो)

Patna: बिहार में अवैध तरीके से घुसे बांग्लादेशी नागरिकों के लिए डिटेंशन सेंटर नही होने पर पटना हाई कोर्ट ने अपनी नाराजगी जताई है. पटना हाईकोर्ट ने एक महत्वपूर्ण मामले में केंद्रीय गृहमंत्रालय से पूछा है कि बांग्लादेशी घुसपैठियों की तरह अवैध तरीके से घुसे अन्य विदेशी नागरिकों को उनके वापस भेजे जाने तक कहां रखा जाता है? क्या उन अवैध विदेशी घुसपैठियों को रखने के लिए डिटेंशन सेंटर नहीं हैं? आज तक बिहार में  डिटेंशन सेंटर क्यों नहीं बनाया गया है?

गौरतलब है कि बिहार में अवैध तीन बांग्लादेशी महिलाओं को नारी निकेतन में रखे जाने पर ये आपराधिक याचिका दायर की गई थी. जिस पर कोर्ट ने सुनवाई करते हुए कहा कि इस मामले में केंद्रीय गृह मंत्रालय को 26 मई तक कोर्ट में जवाब देना होगा. 

बता दें कि हाईकोर्ट ने इस मामले में  केंद्र व राज्य दोनों सरकार से जवाब तलब किया था. इसके साथ ही केंद्रीय विदेश मंत्रालय को भी निर्देश दिया कि बांग्लादेश के दूतावास से संपर्क कर के इनकी वापसी को लेकर जवाब दें, लेकिन अभी तक केंद्रीय विदेश मंत्रालय से कोई भी जवाब नहीं आया है. 

ये भी पढ़ें- पति पप्पू यादव से मिली रंजीत रंजन, कहा-यहां कोविड से बचे तो डेंगू-मलेरिया से मौत निश्चित

जबकि बिहार सरकार ने अपने जवाब में कहा है कि राज्य में कोई भी डिटेंशन सेंटर नहीं है. जिस पर कोर्ट ने अपनी नाराजगी जताई है और केंद्र से 26 मई तक जवाब देने को कहा है.