close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राबड़ी देवी के आवास से सुरक्षा गार्ड्स हटाये जाने पर बिहार में सियासत तेज

बिहार की पू्र्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी की सरकारी अवास 10 सर्कुलर रोड की सुरक्षा व्यवस्था में कमी की गई है. पुलिस मुख्यालय के आदेश के बाद यहां तैनात पुलिस गार्ड को हटा लिया गया है. इस फैसले के बाद सियासी गलियारों में राजनीति की हवा तेज हो गई है. 

राबड़ी देवी के आवास से सुरक्षा गार्ड्स हटाये जाने पर बिहार में सियासत तेज
राबड़ी देवी की सुरक्षा में कमी करने को लेकर आरजेडी नेता विरोध कर रहे हैं.

पटनाः बिहार की पू्र्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी की सरकारी अवास 10 सर्कुलर रोड की सुरक्षा व्यवस्था में कमी की गई है. पुलिस मुख्यालय के आदेश के बाद यहां तैनात पुलिस गार्ड को हटा लिया गया है. इस आदेश के बाद गार्ड्स जो राबड़ी देवी की सुरक्षा के लिए तैनात किए गए थे, उन्हें वापस बुला लिया गया है. इस फैसले के बाद सियासी गलियारों में राजनीति की हवा तेज हो गई है. और इस मुद्दे पर पक्ष विपक्ष एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं. सुरक्षा हटाने को लेकर जहां आरजेडी के नेता खुलकर इसका विरोध कर रहे हैं. और सरकार पर निशाना साध रहे हैं. वहीं सत्तारूढ़ दल के नेताओं ने इसे केवल नियम के अनुसार कार्रवाई बताया है. आरजेडी नेता इस पर राजनीति करते हुए कहा कि यह सरकार की ईर्ष्या है जो ऐसे काम कर रही है. इस मामले में आरजेडी नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव प्रेस कॉफ्रेंस भी करेंगे.

पुलिस मुख्यालय द्वारा गार्ड्स की कमी करने के बाद राबड़ी देवी ने अपने सुरक्षा में बचे गार्ड्स वापस पुलिस मुख्यालय भेजने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नाम पत्र लिखा है. उन्होंने पत्र के द्वारा मुख्यमंत्री से कहा कि, जिस तरह से उनकी सुरक्षा में तैनात जवानों को वापस बुलाया गया है. इस तरह से उनकी सुरक्षा संदेह में हैं और यह सुरक्षा होना या न होना एक ही बात है.

उन्होंने सुरक्षा गार्ड्स को वापस करते हुए यह भी कहा कि अगर उनके साथ और उनके परिवारवालों के साथ किसी तरह की अप्रिय घटना होती है तो इसके जिम्मेदार गृह विभाग और गृह विभाग के मंत्री होंगे. उन्होंने सुरक्षा गार्ड्स के वापसी पर सरकार को बधाई देते हुए कहा कि उनकी सुरक्षा अब बिहार की जनता और उनके पार्टी के कार्यकर्ता करेंगे.

बिहार : श्रेयसी सिंह की जीत पर राज्यपाल और सीएम नीतीश ने जताई खुशी

वहीं, इस घटना के बाद से बिहार में सियासी दंगल भी शुरु हो चुका है. सुरक्षा गार्ड्स को हटाये जाने के बाद आरजेडी के नेता शक्ति यादव ने कहा कि राबड़ी देवी बिहार की पहली महिला मुख्यमंत्री रह चुकी हैं साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री भी हैं. इसलिए उन्हें इसी मानक के अनुसार सुरक्षा प्राप्त है. लेकिन इसके बाद भी उनकी सुरक्षा में तैनात पुलिस को हटाने का काम घृणा की राजनीति का पहचान है. सरकार इसके द्वारा द्वेष की राजनीति कर रही है.

अवैध संबंध का विरोध करने पर ट्रेन के सामने धक्का देकर पत्नी की ले ली जान

हालांकि जेडीयू नेताओं का कहना है कि सरकार किसी तरह की द्वेष की राजनीति नहीं कर रही है. यह केवल कानून के तहत किया गया है.