close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: खगड़िया में बाढ़ से हाहाकार, गंगा नदी के रौद्र रूप से लोग परेशान

मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे के लिए फिर से अलर्ट जारी कर दिया है. हांलकि बाढ़ पीड़ितों को लगातार मदद पहुंचाई जा रही है. खगड़िया में गंगा नदी ने रौद्र रुप धारण कर रखा है.

बिहार: खगड़िया में बाढ़ से हाहाकार, गंगा नदी के रौद्र रूप से लोग परेशान
त्री संतोष कुमार निराला ने बाढ़ पीड़ितों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया. (फाइल फोटो)

खगड़िया: बिहार में इन दिनों बाढ़ से हाहाकार मचा हुआ है. लोग समझ नहीं पा रहे है कि आखिर करें तो क्या करें, जाएं तो कहां जाए. बाढ़ और बारिश के प्रकोप के बीच अब मौसम विभाग ने लोगों की टेंशन को और बढ़ा दिया. 

मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे के लिए फिर से अलर्ट जारी कर दिया है. हांलकि बाढ़ पीड़ितों को लगातार मदद पहुंचाई जा रही है. खगड़िया में गंगा नदी ने रौद्र रुप धारण कर रखा है. खगड़िया में बाढ़ पीड़ितो का हाल चाल जानने के लिए बिहार सरकार के परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला पहुंचे. संतोष कुमार ने बाढ़ पीड़ितों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया. 

 

बाढ़ के कारण बाढ़ पीड़ितों को सरकार की ओर से हर संभव मदद दी जा रही है. संतोष कुमार खगड़िया पहुंचे. वहां विभिन्न कैंप में रह रहे बाढ़ पीड़ितों से उन्होनें मुलाकात की. संतोष कुमार ने बाढ़ पीड़ितों का हाल चाल जाना . साथ ही सरकार के द्वारा बाढ़ पीड़ितों को दी जा रही सुविधाओं के बारे में जानकारी ली. 

हालातों का जायजा लेने के बाद संतोष कुमार ने बैठक भी की. खगड़िया समाहरणालय के सभा कक्ष में अधिकारियों के साथ उन्होनें बैठक की.  बैठक में जिले के सभी अधिकारी मौजूद रहे. इस दौरान मंत्री संतोष कुमार निराला ने कहा कि सभी बाढ़ पीड़ित को समय पर भोजन दिया जाए. खाने के साथ-साथ कैंप में इलाज की सुविधा मुहैया कराई जाए. 

इसको लेकर भी आदेश जारी किए गए. यही नहीं संतोष कुमार ने पशुपालकों को पशु के लिए चारा देने का निर्देश दिया. संतोण कुमार ने जीएन बांध का भी निरीक्षण किया . बाढ़ पीड़ितों को हर संभव मदद मुहैया कराने के लिए भी निर्देश दिए गए. 

तो बाढ़ और बारिश के बीच बिहार बेबस है. हांलकि सरकार अपने स्तर पर पूरी कोशिश कर रही है. बाढ़ पीड़ितों को हर संभव मदद दी जा रही है. लेकिन मौसम विभाग की चेतावनी ने प्रशासन और आम जनता की टेंशन को और बढ़ दिया है. अब ये देखने वाली बात होगी कि आखिर कब तक बिहार को पानी के इस प्रकोप से राहत मिलेगी . 
Anupama Kumari, News Desk