नए साल के जश्न में डूबा बिहार, पार्क-होटल से लेकर मंदिरों तक में लोगों की भारी भीड़

बिहार में चल रही शीतलहर और ठंड के बीच राजधानी पटना सहित पूरे बिहार में लोग नए साल के आगमन को लेकर मंगलवार को जश्न में डूबे हैं.

नए साल के जश्न में डूबा बिहार, पार्क-होटल से लेकर मंदिरों तक में लोगों की भारी भीड़
पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में सुबह से ही बड़ी संख्या में लोग नव वर्ष मनाने पहुंच चुके हैं.

पटना: बिहार में चल रही शीतलहर और ठंड के बीच राजधानी पटना सहित पूरे बिहार में लोग नए साल के आगमन को लेकर मंगलवार को जश्न में डूबे हैं. ठंड में भी इन लोगों का उत्साह कम नहीं है. राज्य के सभी पर्यटक स्थल नए वर्ष के पहले दिन लोगों से गुलजार हैं तो कई लोग पहले दिन भगवान की शरण में पहुंचकर इस नए साल के अच्छे से गुजरने की कामना कर रहे हैं.

पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में सुबह से ही बड़ी संख्या में लोग नव वर्ष मनाने पहुंच चुके हैं. यहां जिला प्रशासन द्वारा गीत-संगीत कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. सुबह 10-11 बजे प्रारंभ यह सांस्कृतिक कार्यक्रम दोपहर 2-3 बजे तक चलेगा. इस दौरान दर्शक स्वादिष्ट व्यंजनों का भी स्वाद चख सकेंगे. 

पटना के 'हार्ट' कहे जाने वाले संजय गांधी जैविक उद्यान में नववर्ष मनाने पहुंचने वालों को इस बार हालांकि निराशा हाथ लगी है. प्रतिवर्ष यहां एक जनवरी को हजारों लोग नए वर्ष के आगमन को लेकर जश्न मनाने पहुंचते थे. इस साल बर्ड फ्लू के कारण उद्यान को अनिश्चितकाल तक के लिए बंद कर दिया गया है. 

नए साल पर बुद्घ स्मृति पार्क में भी लोग पहुंच रहे हैं, पार्क प्रशासन ने भी इसके लिए खास तैयारी कर रखी है. राजधानी वाटिका में भी शाम छह बजे तक मौज-मस्ती होगी. राजधानी वाटिका भी नए वर्ष को लेकर आगंतुकों से गुलजार है. भीड़ को देखते हुए अतिरिक्त काउंटर खोले गए हैं. वाटिका में बड़ी संख्या में व्यंजनों के स्टॉल लगाए गए हैं. 

प्रत्येक दिन की तरह नए साल पर कुम्हरार पार्क भी गुलजार दिख रहा है. पार्क के हर कोने पर लोगों की भीड़ दिख रही है. गोलघर पार्क, वीरकुंअर सिंह आजादी पार्क, नवीन पार्क, पुनाईचक पार्क, अनीसाबाद पार्क, कंकड़बाग स्थित शिवाजी पार्क में भी नए साल के जश्न को लेकर लोगों की भीड़ जुटी हुई है. 

इधर, पटना के मंदिरों में नए वर्ष को लेकर श्रद्घालुओं की भीड़ देखी जा रही है. पटना जंक्शन के समीप महावीर मंदिर में सुबह से ही श्रद्घालुओं का तांता लगा हुआ है. इसके अलावा, पटन देवी, शीतला मंदिर, इस्कॉन मंदिर में भी श्रद्घालु नए वर्ष के पहले दिन भगवान की आराधना के लिए पहुंचे हैं. नए वर्ष के पहले दिन के मद्देनजर सुरक्षा के भी पुख्ता प्रबंध किए गए हैं. 

इसके पूर्व 31 दिसंबर की रात भी शहर के कई होटलों और रेस्तराओं में तेज संगीत तो कहीं जगमगाती सतरंगी रोशनी में लोगों ने नए वर्ष के आगाज पर खुशियां मनाई. इस मौके पर कहीं शानदार नृत्य तो कहीं सुरीली आवाज की महफिल देखने को मिली. 

न्यू इयर सेलिब्रेशन के लिए हर तरफ धूम-धड़ाका दिखा. रात के 12 बजते ही लोगों ने धमाकेदार कार्यक्रमों के बीच नए साल का आगाज किया. पूरे पटना शहर में 'हैप्पी न्यू ईयर' की आवाजें गूंजी और कई जगहों पर आतिशबाजी की गई. (इनपुट IANS से भी)