बिहार में बढ़ी सर्दी, ठंड से ठिठुरे लोग

मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, अगले दो दिनों में ठंड और बढ़ सकती है. पटना और गया के तापमान में गिरावट आ सकती है, वहीं मुजफ्फरपुर और आसपास के इलाकों में शीतलहर का असर दिख सकता है. 

बिहार में बढ़ी सर्दी, ठंड से ठिठुरे लोग
बिहार में ठंड का कहर जारी है. (तस्वीर साभार-आईएएनएस)

पटना: बिहार की राजधानी पटना सहित राज्य के करीब सभी क्षेत्र गुरुवार को कड़ाके की ठंड की चपेट में हैं. पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से बिहार के अधिकतर इलाकों में बादल छाए रहे. धूप नहीं निकलने के कारण पछुआ हवाओं ने सर्दी बढ़ा दी है.

इसी बीच अधिकतम और न्यूनतम तापमान में कम अंतर होने के कारण लोगों को 24 घंटे ठंड का अहसास हो रहा है. पटना मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक, पटना का गुरुवार को न्यूनतम तापमान 10.6 डिग्री सेल्सियस, छपरा का 9.2 डिग्री सेल्सियस, पूर्णिया का 9.4 डिग्री सेल्सियस तथा गया का 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया. पटना में 12 से 14 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हवा से मौसम और सर्द हो गया है.

मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, अगले दो दिनों में ठंड और बढ़ सकती है. पटना और गया के तापमान में गिरावट आ सकती है, वहीं मुजफ्फरपुर और आसपास के इलाकों में शीतलहर का असर दिख सकता है. 

विभाग के अनुसार, 'पटना और गया में गुरुवार को सुबह से कोहरा छाया रहा और बाद में आंशिक बादल भी छाए रहेंगे. बादलों के छंटने और हवाओं की रफ्तार कम होने पर कोहरा और घना होगा. न्यूनतम और अधिकतम तापमान में कमी आ सकती है.' 

मौसम वैज्ञानिकों ने अपने पूर्वानुमान में कहा है कि पूरे प्रदेश में अगले तीन-चार दिनों में न्यूनतम तापमान पांच से नौ डिग्री के बीच आ सकता है. पटना में बुधवार को अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. 

पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि ने बताया कि सार्वजनिक स्थलों पर अलाव जलाने की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है. जिला प्रशासन का दावा है कि पटना में 98 स्थलों पर प्रतिदिन अलाव जलाए जा रहे हैं.