close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना: जेडी वीमेंस कॉलेज में रोकी गई पीजी की क्लास, छात्राओं ने किया था विरोध

शनिवार से छात्राएं सड़कों पर उतर गई थीं. दरअसल जेडी विमेन्स कॉलेज एक महिला कॉलेज है जहां छात्राएं पढ़ती हैं. छात्राओं के मुताबिक, महिला कॉलेज में पीजी क्लास शुरू होने से यहां छात्र भी आएंगे लिहाजा उनकी सुरक्षा और निजता का खतरा पैदा होगा. छात्राओं के समर्थन में कुछ छात्र संगठन भी आ गए थे.

 पटना: जेडी वीमेंस कॉलेज में रोकी गई पीजी की क्लास, छात्राओं ने किया था विरोध
छात्राओं के विरोध के बाद ये फैसला लिया गया है.

पटना: बिहार की राजधानी पटना में पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय ने जेडी वीमेंस कॉलेज में पीजी की कक्षाएं शुरू करने का फैसला अस्थाई तौर से टाल दिया है. छात्राओं के विरोध के बाद ये फैसला लिया गया है. छात्राओं ने इस फैसले का समर्थन किया है. जेडी वीमेंस कॉलेज में पीजी की 11 विषयों शुरू करने का निर्णय किया गया था.

जेडी वीमेंस कॉलेज की छात्राओं के विरोध के सामने आखिर पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय को झुकना पड़ा. दरअसल पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय ने जेडी वीमेंस कॉलेज के आर्ट्स ब्लॉक में पोस्ट ग्रेजुएट क्लास चलाने का फैसला किया था. जेडी विमेन्स कॉलेज के आर्ट्स ब्लॉक में पांच मंजिली बिल्डिंग है जिसके तीन फ्लोर पर पीजी के 11 विषयों को शुरू करने का निर्णय लिया था. 

लेकिन शनिवार से छात्राएं सड़कों पर उतर गई थीं. दरअसल जेडी विमेन्स कॉलेज एक महिला कॉलेज है जहां छात्राएं पढ़ती हैं. छात्राओं के मुताबिक, महिला कॉलेज में पीजी क्लास शुरू होने से यहां छात्र भी आएंगे लिहाजा उनकी सुरक्षा और निजता का खतरा पैदा होगा. छात्राओं के समर्थन में कुछ छात्र संगठन भी आ गए थे. जेडी वीमेंस कॉलेज कॉलेज की प्रिंसिपल प्रोफेसर श्यामा के मुताबिक, छात्राएं विरोध में थी लिहाजा अस्थाई तौर से पीजी की कक्षाएं टालने का फैसला किया गया है. इस मामले में प्रति कुलपति से भी बात हो चुकी है.

दरअसल पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय की स्थापना पिछले साल मार्च 2018 में हुई है. यूनिवर्सिटी के पास पढ़ाई के लिए जगह नहीं है. यूनिवर्सिटी ने एएन कॉलेज, कॉलेज ऑफ कॉमर्स में भी क्लास शुरू करने की जगह खोजी लेकिन उसे माकूल जगह नहीं मिल रही थी. जिसके बाद जेडी विमेन्स कॉलेज में ही पोस्ट ग्रेजुएट के ग्यारह विषयों को आरंभ करने का फैसला किया गया. 

फैसला किया गया कि, आर्ट्स ब्लॉक के पांच फ्लोर में तीन फ्लोर में पीजी की पढ़ाई शुरू की जाएगी. पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी के प्रोवीसी गिरिश कुमार के मुताबिक, ये फैसला अस्थाई तौर से लिया गया है लेकिन इसमें नुकसान आखिरकार छात्रों का ही है. छात्राओं की सुरक्षा के लिए ही यहां गार्ड की भी नियुक्ति होती और छात्रों को जेडी विमेन्स कॉलेज के दूसरे गेट से घुसने की इजाजत दी जाती.

बहरहाल, इस मामले में आगे क्या फैसला लिया जाएगा ये भी देखने वाली बात होगी.