PM ने किसानों का सपना किया पूरा, नए बिल से उन्हें मिलेगी बिचौलिए से मुक्ति- अश्विनी चौबे

बुनियादी ढांचे की कमी थी और मूल्यों में पारदर्शिता नहीं थी. इस कारण से किसान भाइयों को परेशानी का सामना करना पड़ता था. अब किसानों को  राष्ट्रीय बाजार में अवसर मिलने के साथ-साथ बिचौलियों से सही मायनों में मुक्ति मिलेगी. 

PM ने किसानों का सपना किया पूरा, नए बिल से उन्हें मिलेगी बिचौलिए से मुक्ति- अश्विनी चौबे
PM ने किसानों का सपना किया पूरा, नए बिल से उन्हें मिलेगी बिचौलिए से मुक्ति- अश्विनी चौबे.

पटना: केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे (Ashwini Chaubey) ने कहा कि 21वीं सदी में भारत का किसान बंधनों में नहीं, खुलकर खेती करेगा. अन्नदाताओं को जहां मन होगा, जहां ज्यादा पैसा मिलेगा, वहां अपनी फसल बेचेंगे. पीएम नरेंद्र मोदी ने किसानों का सपना साकार किया है.

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कृषि सुधार कानून पर शाहाबाद क्षेत्र के बक्सर, कैमूर, सासाराम, आरा के किसानों से बातचीत कर रहे थे. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मजबूत इच्छाशक्ति से किसानों की समृद्धि एवं उनके कल्याण के लिए ऐतिहासिक कृषि सुधार कानून बन गया है.

इस नए कानून से देश के अन्नदाता को बिचौलियों के चंगुल से मुक्ति दिलाने के साथ-साथ उसे अपनी उपज को इच्छानुसार मूल्य पर बेचने की आजादी देगा. 

उन्होंने कहा कि पहले हमारे किसानों का बाजार सिर्फ स्थानीय मंडी तक सीमित था. उनके खरीदार सीमित थे. बुनियादी ढांचे की कमी थी और मूल्यों में पारदर्शिता नहीं थी. इस कारण से किसान भाइयों को परेशानी का सामना करना पड़ता था. अब किसानों को  राष्ट्रीय बाजार में अवसर मिलने के साथ-साथ बिचौलियों से सही मायनों में मुक्ति मिलेगी. 

किसानों का 'एक देश-एक बाजार' का सपना भी पूरा होगा. ऐतिहासिक कृषि सुधार कानूनों से देश के किसान खुश भी हैं और प्रधानमंत्री मोदी जी का धन्यवाद भी कर रहे हैं. अभी तक किसान अपनी उपज को मंडी में ही बेच सकता था. किसान औने-पौने दाम पर फसल बेचने के लिए मजूबर था.  

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री चौबे ने कहा कि देश का कृषि क्षेत्र, हमारे किसान व गांव, आत्मनिर्भर भारत का आधार हैं. ये मजबूत होंगे तो आत्मनिर्भर भारत की नींव मजबूत होगी. वर्षों तक किसानों के नाम पर अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकने वाली और बिचौलियों को राजनीतिक संरक्षण देने वाली पार्टियों को किसानों को मिली स्वतंत्रता हजम नहीं हो रही है. 

उन्होंने कहा कि कृषि सुधार के कानून से देश का किसान खुश है और आत्मनिर्भर कृषि की दिशा में आगे बढ़ रहा है. मोदी जी की सरकार ने हमेशा किसानों के हित के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लिए है. केंद्र सरकार ने न केवल एमएसपी में वृद्धि की है बल्कि किसानों के पारिश्रमिक मूल्य को सुनिश्चित करने लिए इस पर खरीद भी बढ़ाई है.