कैमूर: दवा के बीच छिपा कर ले जाई जा रही थी शराब, 25 लाख आंकी गई कीमत

उत्पाद अधीक्षक प्रदीप कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी एक ट्रक में शराब आ रहा है. दो टीम बनाई गई. मोहनिया के पास जीटी रोड पर जो एमआरएफ एजेंसी है वही गाड़ी रोककर किया गया उसमें जांच की गई तो चारों तरफ दवा के बीच में शराब रखी पाई गई.

कैमूर: दवा के बीच छिपा कर ले जाई जा रही थी शराब, 25 लाख आंकी गई कीमत
भारी मात्रा में शराब से भरी ट्रक को कैमूर उत्पाद विभाग की टीम ने पकड़ा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कैमूर: बिहार के कैमूर में गुप्त सूचना के आधार पर उत्पाद विभाग की टीम ने एनएच-2 से हरियाणा से आ रही दवा के बीच में छुपा के रखी गई भारी मात्रा में शराब से भरी ट्रक को कैमूर उत्पाद विभाग की टीम ने पकड़ा.

ट्रक में दवा के बीच में छुपा के रखी गई थी. लगभग 200 पेटी शराब जप्त किया गया जिसकी कीमत 25 लाख आंकी जा रही है. ड्राइवर सहित दो व्यक्तियों को गिरफ्तार  किया गया और पूछताछ जारी है.

उत्पाद अधीक्षक प्रदीप कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी एक ट्रक में शराब आ रहा है. दो टीम बनाई गई. मोहनिया के पास जीटी रोड पर जो एमआरएफ एजेंसी है वही गाड़ी रोककर किया गया उसमें जांच की गई तो चारों तरफ दवा के बीच में शराब रखी पाई गई.

लगभग 200 पेटी शराब पाय गया इसकी कीमत लगभग 15 लाख रुपये आंकी जा रही है. ब्लैक मार्केटिंग में लगभग 25 लाख रुपए हो सकती है. उन्होंने बताया कि जो व्यक्ति की गिरफ्तारी हुई है जिसमें एक जो ड्राइवर है और वही गाड़ी का मालिक है. 

साथ ही उन्होंने बताया कि एक व्यक्ति और उनके साथ और गिरफ्तार किया गया है. बताया जा रहा है कि फरीदाबाद से लेके चला था पटना जा रही था अभी मामले की जांच की जा रही है .