झारखंड: शराब तस्करी के बड़े गिरोह का भंडाफोड़, होली से पहले बिहार पहुंचाने की थी तैयारी

31 जनवरी की शाम खादगढ़ा बस स्टैंड से जब्त शराब मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है. दरअसल होली से पहले भारी मात्रा में शराब बिहार पहुंचाने की कोशिश थी.

झारखंड: शराब तस्करी के बड़े गिरोह का भंडाफोड़, होली से पहले बिहार पहुंचाने की थी तैयारी
होली से पहले भारी मात्रा में शराब बिहार पहुंचाने की कोशिश थी.

रांची: झारखंड की राजधानी रांची में 31 जनवरी की शाम खादगढ़ा बस स्टैंड से जब्त शराब मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है. दरअसल होली से पहले भारी मात्रा में शराब बिहार पहुंचाने की कोशिश थी.

यह खुलासा तब हुआ जब खादगढ़ा बस स्टैंड से टमाटर में छुपाकर शराब की बोतलें बस से बिहार ले जाने के दौरान पकड़ी गई. खादगढ़ा टीओपी के प्रभारी भीम सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि गुप्त सूचना के आधार पर उन्होंने छापेमारी कर कई हजार बोतलों को जब्त किया.

इन बोतलों को टमाटर की बोरी के बीच में छुपा कर बिहार भेजा जा रहा था ताकि होली से पहले ही बिहार में शराब का स्टॉक हो जाए और फिर मनमाने रेट से शराबबंदी वाले राज्य में शराब की बिक्री की जा सके.

पुलिस ने बिरसा मुंडा से स्टैंड से तस्करों का पर्दाफाश किया है और साथ ही बस एजेंट और मैनेजर को हिदायत दी गई है कि बगैर सामान की जांच के और बिना कागजात के कोई भी सामान लोड नहीं करना है और इसी का नतीजा है कि बीते दिनों हाल के दिनों में टमाटर की बोरी से शराब पकड़ा गया.

बहरहाल, शराब तस्करों द्वारा शराब तस्करी की साजिश को तो पुलिस ने नाकाम कर दिया है लेकिन आने वाले दिनों में होली को लेकर शराब के शौकीनों की बढ़ती डिमांड के बाद अब पुलिस को आगे भी इस तस्करी को रोकना एक बड़ी चुनौती होगी.