close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: पुलिसवाले ही उड़ा रहे हैं ट्रैफिक नियमों की धज्जियां, पड़ताल में खुली पोल

पटना के पुलिसलाइन इलाके के बाहर सुबह आठ से दस बजे के बीच कई पुलिसकर्मी दिखे, जिन्होंने सीट बेल्ट नहीं लगा रखी थी, बिना हेल्मेट के बाइक चला रहे थे.

बिहार: पुलिसवाले ही उड़ा रहे हैं ट्रैफिक नियमों की धज्जियां, पड़ताल में खुली पोल
ट्रैफिक नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं पुलिसवाले.

पटना : संशोधित वाहन अधिनियम लागू हो गया है. पूरे भारत में लागू इस अधिनियम को कड़ाई से पालन कराया जा रहा है. इस अधिनियिम को पालन कराने में अहम जिम्मेदारी पुलिसवालों की है, लेकिन क्या खुद पुलिसवाले इस नियम को मान रहे हैं? क्या उन्हें संशोधित वाहन अधिनियम को मानने से गुरेज है? जी मीडिया के जायजे में इसकी पोल खुल गई.

पटना का पुलिस लाइन इलाका यहां बड़ी संख्या में पुलिसवाले और अधिकारी रहते हैं. एक सितंबर से लागू संशोधित वाहन अधिनियम लागू होने के बाद इसे लागू कराने में ट्रैफिक के साथ ही पुलिसवालों की भी बड़ी भूमिका है. पटना में पिछले आठ दिनों से चौक-चौराहों पर पुलिसवाले वैसे वाहन चालकों पर जुर्माना ठोक रहे हैं, जो बिना हेल्मेट या बिना सीट बेल्ट की गाड़ी चला रहे हैं. लेकिन खुद पुलिस वाले इस नियम को नहीं मान रहे हैं. 

पटना के पुलिसलाइन इलाके के बाहर सुबह आठ से दस बजे के बीच कई पुलिसकर्मी दिखे, जिन्होंने सीट बेल्ट नहीं लगा रखी थी, बिना हेल्मेट के बाइक चला रहे थे. यहीं नहीं कई गाड़ियों में काली फिल्म या ब्लैक शीशे भी दिखे. कई पुलिसकर्मी ऐसे भी दिखे, जिनकी कमर में पिस्टल थी लेकिन बड़ी शान से सवारी करते हुए बिना हेल्मेट के बुलेट चलाते नजर आए.

संशोधित वाहन अधिनियम में बिना हेलमेट पहने दोपहिया वाहन चलाने पर एक हजार के जुर्माने के साथ ही तीन महीने तक ड्राइविंग लाइसेंस रद्द करने का प्रावधान है. वहीं बिना सीट बेल्ट की गाड़ी चलाने पर एक हजार का जुर्माना भरने का नियम है. पटना के जिला परिवहन अधिकारी अजय ठाकुर ने कहा है कि कानून हर किसी के लिए बराबर है. जो कोई भी नियम तोड़ेगा उसके खिलाफ कार्रवाई करने में कोई हिचकिचाहट नहीं है. अब पुलिसवाले भी नियम तोड़ेंगे तो उन्हें जुर्माना भरना होगा.

अगर कानून को लागू कराने वाले लोग ही कानून तोड़ेंगे तो उससे एक गलत संदेश लोगों के बीच जाएगा. पुलिसकर्मियों पर भी ट्रैफिक नियम लागू कराने की जिम्मेदारी होती है. बड़ा सवाल यहा है कि उन पुलिसवालों पर क्या कार्रवाई होगी, जो बिना किसी डर के दोपहिया और चारपहिया वाहन का इस्तेमाल कर रहे हैं.

लाइव टीवी देखें-: