बिहार: भगवान की जाति को लेकर गर्माई बिहार की सियासत, बीजेपी ने किया बचाव

अब भारत की राजनीति ने विकास, शिक्षा, स्‍वास्‍थ जैसे जमीनी मुददों से भटक कर भगवान की जाति पर जा रूकी है. आए दिन राजनेता भगवान की जाति को लेकर घिरे नजर आते है. 

बिहार: भगवान की जाति को लेकर गर्माई बिहार की सियासत, बीजेपी ने किया बचाव
खनन एवं मंत्री बृजकिशोर बिंद ने भगवान शिव की जाति को लेकर बड़ा बयान दिया है

पुलकित मित्तल, पटना: समय बदल रहा है और इसी के साथ-साथ देश की राजनीति में भी बड़े बदलाव आने लगे हैं. अब भारत की राजनीति भी विकास, शिक्षा, स्‍वास्‍थ जैसे जमीनी मुद्दों से भटक कर भगवान की जाति पर जा रूकी है. आए दिन राजनेता भगवान की जाति को लेकर घिरे नजर आते हैं. कभी हनुमान के नाम पर तो कभी किसी और भगवान के नाम पर आए दिन सियासत गर्माई रहती है. कुछ ऐसा ही मामला बिहार से सामने आया है, जहां बिहार के खनन एवं भुत्‍तव मंत्री बृजकिशोर बिंद ने भगवान शिव की जाति को लेकर बड़ा बयान दिया है. जिसके बाद से बिहार की सियासत गरमाई हुई है.

दरअसल, बिहार के पटना में बुधवार को आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान मंत्री बृजकिशोर बिंद ने भगवान शिव की जाति को लेकर दिए बयान के बाद फंसते नजर आ रहे है. मंत्री बृजकिशोर बिंद ने कहा कि 'शंकर भगवान बिंद जाति के थे और यह बात शिव पुराण के भाग 2 अध्‍याय 36 पारा 4 में लिखी हुई है. इतना ही नहीं लेखक विद्यासागर महाजन द्वारा लिखी गई 'प्राचीन भारत का इतिहास' जिसे एनसीएस हिस्‍ट्री कहते है, के अनुच्छेद 4 में लिखा है, शंकर जी की जाति से बिंद थे. एमए में भी ये पढ़ाया जाता है. जो जानकारी मुझे पुस्‍तकों से मिली है उसके आधार पर मैंने सोचा कि समाज के सभी लोगों को इसकी जानकारी होनी चाहिए'.

भगवान शिव की जाति को लेकर दिया गया यह बयान लोगों को रास नहीं आया. जिसके बाद लोगों की प्रतिक्रियाएं आनी लाजमी थी. इन प्रतिक्रियाओं के जवाब में मंत्री बृजेशकिशोर ने कहा कि जब कृष्ण भगवान ग्वाला हो सकते हैं और श्री राम भगवान क्षत्रिय हो सकते हैं, तो फिर शंकर जी बिंद जाति के क्यों नहीं हो सकते? जिसके बाद मामला और बढ़ गया और बढ़ते-बढ़ते अब सत्‍ता की गलियारों तक पहुंच चुका है.

आचार्य राजनाथ झा ने बताया गलत
भगवान शिव की जाति बताने को आचार्य राजनाथ झा ने गलत बताया है. उन्होंने कहा कि शिव ब्रह्म हैं और ब्रह्म की कोई जाति नहीं होती है. जो जिस योनि का होता है, उसकी वही जाति है. शिव देवता हैं, इसलिए उनमें देवत्व है. कहा गया है, कि वेद का इतिहास कोई नहीं जानता. वेद को शिव और शिव को वेद कहा गया है. इसलिए ऐसे ही किसी देवता की जाति बता देना उचित नहीं है. अगर किसी के पास कोई प्रमाण है, तो उसको सामने रखना चाहिए. 

आरजेडी विधायक ने किया पलटवार
आरजेडी विधायक राहुल तिवारी ने मंत्री बृजकिशोर बिंद पर पलटवार करते हुए कहा कि वोट के लिए बीजेपी के नेता नीचे गिरते जा रहे है. यूपी के सीएम ने हनुमान जी को दलित बता दिया था. ये लोग मंत्री, सीएम तो बन गए लेकिन इनकी सोच नासमझ जैसी है.

बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद
मंत्री बृजकिशोर बिंद के बयान पर बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि भगवान कहां और किसमे हैं ये देखनेवाले के नजरिये पर निर्भर करता है. मंत्री के बयान का गलत मतलब न निकाला जाय. भगवान तो सभी जगह बसते हैं.