close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

डिनर पर बिहार में शुरू हुई सियासत, RJD ने कहा 'तोड़फोड़ डिनर' तो BJP ने भी किया पलटवार

एनडीए के तमाम नेता दिल्ली पहुंच रहे हैं. बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी भोज में शामिल होने के लिए दिल्ली पहुंचेंगे.

डिनर पर बिहार में शुरू हुई सियासत, RJD ने कहा 'तोड़फोड़ डिनर' तो BJP ने भी किया पलटवार
एनडीए के डिनर को आरजेडी ने तोड़फोड़ डिनर की संज्ञा दी है. (फाइल फोटो)

पटना: अमित शाह ने एनडीए के लिए डिनर जरूर दिल्ली में रखा है लेकिन डिनर पर सियासत बिहार में शुरू हो गई है. एनडीए के तमाम नेता दिल्ली पहुंच रहे हैं. बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी भोज में शामिल होने के लिए मंगलवार को दिल्ली पहुंचेंगे. डिनर डिप्लोमेसी पर यूपीए और एनडीए आमने सामने है. एनडीए के डीनर को आरजेडी ने तोड़फोड़ डिनर की संज्ञा दी है तो एनडीए के दोनों दलो ने आरजेडी पर जुबानी हमला बोला है.

आरजेडी ने कहा है कि इस डिनर में लोकतंत्र की हत्या की जाएगी. एनडीए के इस भोज में अनैतिक तरीके से सरकार बनाने की कवायद शुरु हो रही है. आरेजी नेता रामानुज ने कहा है कि जोड़तोड़ के लिए इस भोज का आयोजन किया गया है. उन्होंने कहा कि भोज के दौरान छोटी-छोटी पार्टियों को कैसे जोड़ तोड़ा जाए, इन तमाम चीजों पर बात होगी. आरजेडी नेता रामानुज ने कहा है कि सभी को पता है कि एनडीए को बहुमत नहीं मिल रहा इसलिए डिनर डिप्लोमेसी की जा रही है.

 

इधर, एनडीए के भोज को तोड़फोड़ का भोज कहने पर बीजेपी ने पलटवार किया है. बीजेपी नेता नवल किशोर यादव ने कहा है कि दिल्ली की भोज में सरकार बनाने की कोशिशें को धार दिया जाएगा. तोड़फोड़ की बात पर जवाब दिया है कि यदि हम ऐसा कर रहे है तो इसमें गलती क्या है. लोकतंत्र में यह कोई नई बात नही है. महागठबंधन को भोज करने से कोई रोक रहा है क्या? 

नवल किशोर यादव ने कहा है कि हम लोकतांत्रिक पार्टी हैं, किसी परिवार की पार्टी नहीं हैं.आरजेडी पहले अपना कुनबा बचाए. उन्होंने कहा कि हमलोग सम्मानजनक तरीके से बैठते हैं. खाते-पीते हैं और बातें करते हैं. हम परिवारों की जमात नहीं है. हमारी जमात देश चलाने वाली जमात है.
दिल्ली में एनडीए के भोज पर जेडीयू की ओर से भी बयान आया है. जेडीयू नेता अशोक चौधरी ने कहा है कि हमसब वहां मिल रहे है. भोज में आगे की रणनीति तय की जाएगी. अशोक चौधरी ने कहा है कि एनडीए हीं नही, यूपीए भी आपस मे मिल रहा है. यह कोई नई बात नहीं है.