close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रांची: बेटे और परिचितों के लिए टिकट मांगने में जुटे नेता, दिल्ली तक हो रही भाग दौड़

पार्टी के प्रति वफादारी के बदले उन्होनें टिकट की मांग की है. पार्टी आलाकमान के सामने उन्होनें टिकट की मांग की. साथ ही उन्होंने कहा कि तीस सालों से पार्टी के हर आदेश को मैंने माना है.  

रांची: बेटे और परिचितों के लिए टिकट मांगने में जुटे नेता, दिल्ली तक हो रही भाग दौड़
टिकट के लिए नेता रांची से लेकर दिल्ली तक भाग दौड़ में जुटे हुए हैं.

रांची: झारखंड में फिलहाल विधानसभा चुनाव की घोषणा अभी हुई नहीं है लेकिन टिकट के लिए हर कोई कोशिश में जुटा हुआ है. टिकट के लिए नेता रांची से लेकर दिल्ली तक भाग दौड़ में जुटे हुए है. 

विधानसभा टिकट की रेस में धनबाद सांसद पीएन सिंह के बेटे प्रशांत सिंह भी है. जिन्होनें बीजेपी की परंपरागत धनबाद सीट से अपनी दावेदारी पेश की है. इतना ही नहीं धनबाद सीट से बीजपी के युवा नेता और जिला उपाध्यक्ष संजय झा ने भी टिकट मांगा है.

पार्टी के प्रति वफादारी के बदले उन्होनें टिकट की मांग की है. पार्टी आलाकमान के सामने उन्होनें टिकट की मांग की. साथ ही उन्होंने कहा कि तीस सालों से पार्टी के हर आदेश को मैंने माना है.

धनबाद की सिंदरी सीट पर भी बीजेपी के मौजूदा विधायक फूलचंद मंडल ने अपने बेटे के लिए दावेदारी पेश की. अपनी उम्र का हवाला देते हुए फूलचंद ने सिंदरी विधानसभा का टिकट अपने बेटे धरणीधर मंडल के लिए मांगा. 

टिकट के लिए वो लगातार पार्टी आलाकमान के संपर्क में हैं. दूसरी तरफ सिंदरी सीट से बीजेपी नेता इंद्रजीत महतो ने भी खुल कर अपनी दावेदारी पेश की. साथ ही उन्होंने बीजेपी को इस बार 65 पार का लक्ष्य बताया. सिंदरी सीट पर दोबारा जीत दर्ज करने की बात कही. 
Anupama Kumari, News Desk

सांसद के बेट प्रशांत सिंह के घोषणा के बाद धनबाद विधायक राज सिन्हा की बेचैनी और बढ़ गई है. राज सिन्हा ने कहा की बीजेपी ही ऐसी पार्टी है जहां परिवारवाद को महत्व नहीं मिलता है. वहीं, दावेदारी को लेकर उन्होनें कहा की सांसद विधायक बनने की इच्छा हर कार्यकर्ता को होती है. पार्टी को फैसला करना है कि कौन कहां से लड़ेगा.