close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'सम्पूर्ण क्रांति' को लेकर BJP सांसदों में छिड़ी जंग, रामकृपाल यादव, निशिकांत दूबे आमने-सामने

इस मुद्दे पर सियासत तेज हो चुकी है. जेडीयू नेता केसी त्यागी ने भी सम्पूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को लेकर मचे बवाल पर प्रतिक्रिया दी है. 

'सम्पूर्ण क्रांति' को लेकर BJP सांसदों में छिड़ी जंग, रामकृपाल यादव, निशिकांत दूबे आमने-सामने
सम्पूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को लेकर आमने-सामने बीजेपी के दो सांसद.

पटना : नई दिल्ली और पटना के बीच चलने वाली सम्पूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को लेकर सत्तरूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) के दो सांसदों के बीच ठन गई है. ट्रेन के परिचालन को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री और पाटलिपुत्र के सांसद रामकृपाल यादव और गोड्डा से सांसद निशिकांत दूबे आमने-सामने आ गए हैं. निशिकांत दूबे ने उक्त ट्रेन को मधुपुर तक विस्तारित करने को लेकर रेल मंत्रालय को पत्र लिखा है.

सांसद के पत्र के बाद विभागीय कार्रवाई भी शुरू हो गई है. इसी बीच सांसद निशिकांत दूबे के सम्पूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को मधुपुर ले जाने के विरोध में बिहार के कई सांसदों ने रेलवे अधिकारियों से बातचीत की है. पाटलिपुत्र सांसद रामकृपाल यादव ने कहा है कि वे किसी भी कीमत पर ट्रेन को मधुपुर नहीं ले जाने देंगे. हर कीमत पर इस कदम का विरोध करेंगे और रेल मंत्री से मिलेंगे. अपरोक्ष रूप से रामकृपाल यादव ने निशिकांत दूबे पर निशाना भी साधा है.

इस मुद्दे पर सियासत तेज हो चुकी है. जेडीयू नेता केसी त्यागी ने भी सम्पूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को लेकर मचे बवाल पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि जेडीयू हमेशा से बिहार के हितों के साथ रही है. बिहार के लोगों की भावना का सम्मान होना चाहिए.

वहीं, बीजेपी के राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा ने भी सम्पूर्ण क्रांति एक्सप्रेस मामले पर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई है. उनका कहना है कि मधुपुर, जसीडीह और देवघर से ट्रेनों का विस्तार हो इसमें कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन बिहार के हक को छीनने का प्रयास न किया जाए. आरके सिन्हा के मुताबिक, राजधानी के बाद आम लोगों के लिए सबसे बेहतर ट्रेन के तौर पर सम्पूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को जाना जाता है. उन्होंने रेलमंत्री से गुजारिश की है कि मधुपुर और देवघर को अतिरिक्त ट्रेन दी जाए, लेकिन किसी भी सूरत में सम्पूर्ण क्रांति से कोई छेड़छाड़ नहीं किया जाए.

लाइव टीवी देखें-: