close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गिरिराज सिंह के बयान पर सियासत तेज, BJP-JDU का मिला साथ, विरोधियों के तेवर सख्त

कांग्रेस के एक अन्य विधायक अब्दुल जलील मस्तान का कहना है कि गिरिराज सिंह विवादित बयान देते हैं. एक आदमी के बयान से कुछ नहीं होता. फैसला सरकार को लेना है. 

गिरिराज सिंह के बयान पर सियासत तेज, BJP-JDU का मिला साथ, विरोधियों के तेवर सख्त
गिरिराज सिंह के ट्वीट पर सियासत तेज. (फाइल फोटो)

पटना : जनसंख्या कानून को लेकर केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के फायरब्रांड नेता गिरिराज सिंह के विवादित ट्वीट पर सियासत तेज है. जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) विधायक ललन पासवान ने भी सख्त कानून बनाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि हिन्दू और मुस्लिम सबके लिए एक कानून हो.

वहीं, राष्ट्रीय जनता दल (आरेजीड) विधायक भोला यादव ने कहा कि गिरिराज ओछी राजनीति कर रहे है. जनसंख्या नियंत्रण हो इसमें कोई परेशानी नहीं है, लेकिन राजनीति ठीक नहीं है.

सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेता और बिहार सरकार में मंत्री विनोद नारायण झा ने कहा कि सभी की सहमति से जनसंख्या नियंत्रण हो. वहीं, गिरिराज सिंह के बयान पर कांग्रेस विधायक शकील अहमद ने कहा कि सरकार उनकी है, जो करना है कर लें. लेकिन कोई भी फैसला करने से पहले आम राय बना लें.

कांग्रेस के एक अन्य विधायक अब्दुल जलील मस्तान का कहना है कि गिरिराज सिंह विवादित बयान देते हैं. एक आदमी के बयान से कुछ नहीं होता. फैसला सरकार को लेना है. सीपीआई (एमएल) विधायक सत्यदेव राम ने गीरीराज सिंह के बयान को विभाजनकारी बताया है.

ज्ञत हो कि गिरिराज सिंह ने विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर किए गए ट्वीट में लिखा, 'हिंदुस्तान में जनसंख्या विस्फोट अर्थव्यवस्था, सामाजिक समरसता और संसाधन का संतुलन बिगाड़ रहा है. जनसंख्या नियंत्रण पर धार्मिक व्यवधान भी एक कारण है. हिंदुस्तान 47 की तर्ज़ पर सांस्कृतिक विभाजन की ओर बढ़ रहा है.'

गिरिराज सिंह ने जनसंख्या नियंत्रण कानून के लिए सभी राजनीतिक दलों से आगे आने की वकालत की है. गिरिराज सिंह के इस बयान के बाद राजनीति गरमाने की पुरजोर संभावना है.