CPI-ML के महागठबंधन छोड़ने पर सियासत, NDA बोली- घर का जोगी मठ उजाड़ वाली स्थिति

उन्होंने कहा कि परिवार की बदौलत नेता बन सकते हैं. परिवार की बदौलत जनता का विश्वास कैसे जितेंगे. बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि भाकपा माले का आरजेडी के साथ जाने का फैसला ही उनकी पार्टी की विचारधारा के खिलाफ था.

CPI-ML के महागठबंधन छोड़ने पर सियासत, NDA बोली- घर का जोगी मठ उजाड़ वाली स्थिति
CPI-ML के महागठबंधन छोड़ने पर सियासत, NDA बोली- घर का जोगी मठ उजाड़ वाली स्थिति.

पटना: बिहार में महागठबंधन को विधानसभा चुनाव (Bihar Vidhansabha election) से पहले बहुत बड़ा झटका लगा है. माले के महागठबंधन छोड़ने पर अब सियासत शुरू हो गई है. इस पर आरजेडी प्रवक्ता मृत्युजंय तिवारी ने कहा कि हमें उम्मीद है कि माले महागठबंधन में रहेगी. जनता की भावना तेजस्वी (Tejashwi Yadav) के नेतृत्व में महागठबंधन के साथ है. जो महागठबंधन छोड़ेंगे वो जनभावना के खिलाफ जाएंगे.

महागठबंधन से सीपीआई एमएल के छोड़ कर अलग उम्मीदवारों की सूची जारी करने पर जेडीयू नेता अजय आलोक ने तेजस्वी के नेतृत्व पर निशाना साधा है. तेजू बाबा का कैसा नेतृत्व है. पहले मांझी गए, फिर कुशवाहा अब माले गई और कांग्रेस भी जानेवाली है. अब अकेले रहकर क्या मन्दिर का घंटा बजाएंगे.

उन्होंने कहा कि परिवार की बदौलत नेता बन सकते हैं. परिवार की बदौलत जनता का विश्वास कैसे जितेंगे. बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि भाकपा माले का आरजेडी के साथ जाने का फैसला ही उनकी पार्टी की विचारधारा के खिलाफ था.

बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि आरजेडी नेता शहाबुद्दीन ने माले के दिग्गज नेता की हत्या की थी. आखिरकार परेशान माले ने भी आरजेडी का साथ छोड़ने का फैसला लिया. महागठबंधन में जीतनराम मांझी अपमानित हुए फिर कुशवाहा का भी अपमान हुआ. 

इसके अलावा सहनी की कोई पूछ नहीं है. कांग्रेस ने तेजस्वी यादव को नेता मानने से इनकार कर दिया है. ऐसे में ये गठबंधन ज्यादा जोगी मठ उजाड़ वाला नज़र आता है.