close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पी चिदंबरम के मामले पर बिहार में सियासत तेज, बीजेपी और आरजेडी दिख रही है आमने-सामने

 पी चिदंबरम मामले में बिहार के डिप्टी सीएम और बीजेपी नेता सुशील मोदी ने कड़ा बयान दिया है. जिसके बाद आरजेडी ने सुशील मोदी पर निशाना साधा है.

पी चिदंबरम के मामले पर बिहार में सियासत तेज, बीजेपी और आरजेडी दिख रही है आमने-सामने
सुशील मोदी के बयान पर बिहार में सियासत तेज हो गई है. (फाइल फोटो)

पटनाः कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व गृहमंत्री पी चिदंबरम सीबीआई की हिरासत में हैं. उनसे सीबीआई पूछताछ कर रही है. वहीं, पी चिदंबरम मामले में बिहार के डिप्टी सीएम और बीजेपी नेता सुशील मोदी ने कड़ा बयान दिया है. जिसके बाद आरजेडी ने सुशील मोदी पर निशाना साधा है.

दरअसल, सुशील मोदी ने कहा है कि 'यूपीए सरकार में गृह मंत्री और वित्त मंत्री रहते हुए चिदंबरम ने पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई की मदद की, जिससे उस दौर में कई जगह बड़ी आतंकी घटनाएं हुई और नकली नोटों की तस्करी बेतहाशा बढ़ी.

उन्होंने कहा, देश की सुरक्षा और अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाने में मददगार होने के एवज में चिदंबरम को फर्जी कंपनियों के जरिए पैसे मिले, जिससे उनके बेटे कार्तिक चिदंबरम और अन्य संबंधियों के नाम पर अरबों रुपये की संपत्ति खरीदी गई.

मोदी के इस बयान पर आरजेडी ने निशाना साधा है. आरजेडी प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने कहा कि बीजेपी खुद देश की अर्थव्यवस्था डूबा रही है. और चिदंबरम के कार्यकाल पर सवाल खड़े कर रही है. सभी जानते हैं मनमोहन सिंह के कार्यकाल में अर्थव्यवस्था देश की अच्छी थी तो चिदंबरम पर यह आरोप लगाना सही नहीं है. बीजेपी चिदंबरम को फसाना चाहती है.

वहीं, तेजस्वी यादव ने कहा कि चिदंबरम पर हुई सीबीआई करवाई से साफ है कि बीजेपी के पार्टी जैसी सीबीआई काम कर रही है. संवैधानिक संस्थानों का दुरुपयोग किया जा रहा है. केंद्रीय एजेंसी केंद्र सरकार के निर्देश कर करवाई कर रही है. राजनैतिक साजिस के तहत करवाई हो रही है हालांकि न्यायालय पर हमें पूरा भरोसा है.

आरजेडी के बयान के बाद जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि आज जो भी भ्रष्टाचार में लिप्त होगा उसका हाल ऐसा ही होगा. बिहार में भ्रष्टाचार की जननी लालू यादव जो जेल में है, कितना भी  रसूखदार व्यक्ति हो भ्रष्टाचार में लिप्त होगा तो कानून उसे पकड़ कर जेल के सलाखों के पीछे डालेगी.