बिहार: प्रमोद कुमार का तेजस्वी पर हमला, कहा- प्रोपगेंडा नहीं फैलाएं RJD नेता

तेजस्वी यादव एजेंडा पर बात करें, प्रोपगेंडा नहीं फैलाए. मंत्री ने कहा कि, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने कहा है कि, कहीं त्रुटि है तो सलाह दें. जिला प्रशासन से बात करें. लेकिन कोरोना योद्धाओं के काम पर उंगली उठाना विधि संगत नहीं हैं.

बिहार: प्रमोद कुमार का तेजस्वी पर हमला, कहा- प्रोपगेंडा नहीं फैलाएं RJD नेता
बिहार: प्रमोद कुमार का तेजस्वी पर हमला, कहा- प्रोपगेंडा नहीं फैलाएं RJD नेता. (फाइल फोटो)

पटना: बीजेपी (BJP) नेता और बिहार सरकार में मंत्री प्रमोद कुमार ने आरजेडी (RJD) नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) पर निशाना साधा है. मंत्री प्रमोद कुमार ने कहा है कि, सवाल उठाने वाले नेता प्रतिपक्ष पहले सामने आएं.

उन्होंने कहा कि, तेजस्वी यादव एजेंडा पर बात करें, प्रोपगेंडा नहीं फैलाए. मंत्री ने कहा कि, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने कहा है कि, कहीं त्रुटि है तो सलाह दें. जिला प्रशासन से बात करें. लेकिन कोरोना योद्धाओं के काम पर उंगली उठाना विधि संगत नहीं हैं.

मंत्री ने कहा कि, नेता प्रतिपक्ष भेदभाव, ऊंच-नीच की नीति छोड़े और सरकार का साथ दें. बता दें कि, बिहार विधानसभा (Bihar Vidhansabha) में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव लगातार नीतीश कुमार सरकार पर निशाना साध रहे हैं. तेजस्वी कभी प्रवासी मजदूरों की वापसी तो कभी श्रमिकों की वापसी के लिए रेलवे द्वारा किराया लेने का आरोप लगा रहे हैं.

दरअसल, तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया है कि, बिहार आने वाले मजदूरों से पैसा लिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि, देशभर में 12 हजार ट्रेन है और नीतीश सरकार को चाहिए कि वह एडवांस में रेलवे को पैसा जमा कर दे. जिससे मजदूरों की वापसी आराम से हो सके.

इसके साथ ही, उन्होंने कहा कि अगर नीतीश कुमार सरकार रेलवे को पैसा नहीं जमा करा पा रही है, तो वह विपक्ष से कहे. विपक्ष सरकार की मदद के लिए तैयार है. इतना ही नहीं, तेजस्वी ने कहा कि, अधिकारी जनप्रतिनिधियों की बात नहीं सुन रहे हैं और राज्य में जांच भी कम हो रही है.

उन्होंने मांग किया कि, सरकार जनप्रतिनिधियों का सहयोग ले. इससे पहले जेडीयू प्रवक्ता अजय आलोक ने भी तेजस्वी पर तंज कसा था. अजय आलोक ने कहा कि, बड़े-बड़े ज्ञानी कह गए हैं जिनके पास ज्ञान कम हो उनसे सुझाव नहीं लेते. तेजस्वी यादव में सामान्य ज्ञान की कमी है. देश भर में 20 हजार ट्रेन है और वह कह रहे हैं कि 12 हजार ट्रेन हैं.

अजय आलोक ने कहा कि, उम्मीद थी कि 50 ट्रेन और 2 हजार बस का पैसा जमा करा देंगे. लेकिन इसकी कोई चर्चा नहीं किए. जेडीयू (JDU) नेता ने कहा कि, तेजस्वी यादव को पता ही नहीं है कि गवर्नेंस कैसे होती है. उन्होंने कहा कि, सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) हम लोग ही नहीं पालन करेंगे तो क्या संदेश जाएगा. अधिकारी जो फ्रंट लाइन पर काम कर रहे हैं, उनका मनोबल गिरा रहे हैं तेजस्वी यादव.