close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नालंदा: बाढ़ पीड़ितों तक राहत सामग्री पहुंचाने में जुटा प्रशासन, प्रभारी सचिव ने किया निरीक्षण

जिला के रहुई, करायपरसुराय, सरमेरा, बिन्द, हिलसा, बिहारशरीफ सहित कई प्रखंडों के दर्जनों गावों के लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. 

नालंदा: बाढ़ पीड़ितों तक राहत सामग्री पहुंचाने में जुटा प्रशासन, प्रभारी सचिव ने किया निरीक्षण
बिहारशरीफ में बाढ़ पीड़ितों के लिए राहत सामग्री की पैकिंग.

नालंदा: बिहार के नालंदा (Nalanda) में बाढ़ से प्रभावित लोगों को बढ़िया राहत सामग्री पहुंचाने के उद्देश्य से जिला प्रभारी सचिव अनुपम कुमार और नालंदा के जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह बीती रात अचानक राहत पैकेजिंग स्थल पहुंचे. उन्होंने बाढ़ पीड़ितों के बीच वितरित किए जा रहे राहत सामग्री के गुणवत्ता की जांच की. दोनों अधिकारी रात में करीब तीन घंटे तक खड़े होकर अपनी निगरानी में राहत सामग्री का पैकिंग करवाकर बाढ़ पीड़ितों के बीच उसे बांटने के लिए भेजा.

जिला के रहुई, करायपरसुराय, सरमेरा, बिन्द, हिलसा, बिहारशरीफ सहित कई प्रखंडों के दर्जनों गावों के लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. जिला प्रशासन के द्वारा राहत सामग्री का वितरण किया जा रहा है. कई जगहों पर सामुदायिक किचन की व्यवस्था की गई है. बाढ़ पीड़ितों के रहने और खाने की व्यवस्था की गई है.

जिले में बाढ़ से हुए क्षति और बाढ़ पीड़ितों को दी जाने वाली सुविधाओं का जायजा लेने मुख्यमंत्री के निर्देश पर जिला प्रभारी सचिव अनुपम कुमार सोमवार से जिला में कैम्प कर बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर जायजा ले रहे हैं. इस मौके पर उन्होंने कहा कि अभी 20 हजार पैकेट बनवाए जा रहे हैं. बाढ़ प्रभावित लोगों के बीच वितरित किए जाएंगे. सिविल सर्जन को ओआरएस का पैकेट और जिंक के टैबलेट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराने को निर्देश दिया गया.

वहीं, बिहारशरीफ में बाल विकास विभाग के द्वारा राहत सामग्री बाढ़ पीड़ितों में बांटे जा रहे हैं. इस काम में जुटी नीलू कुमारी ने बताया कि फूड पैकेट में चूड़ा, गुड़, चना, दवाई इत्यादी जरूर सामानों की पैकेजिंग की जा रही है, जिसे बाढ़ पीड़ितों के बीच वितरित किया जाएगा.