पुलवामा आतंकी हमले के विरोध में नवादा में दुकानें बंद, लगे 'पाकिस्तान मुर्दाबाद' के नारे

सुबह से ही बजरंग दल, स्कूली बच्चे, स्थानीय दुकानदार, वकीलों का संगठन के साथ-साथ कई मुस्लिम संगठनों ने पूरे शहर में आक्रोश मार्च निकाला. 

पुलवामा आतंकी हमले के विरोध में नवादा में दुकानें बंद, लगे 'पाकिस्तान मुर्दाबाद' के नारे
नवादा में आतंकी हमला के विरोध में बाजार बंद.

नवादा : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को हुए आतंकी हमले के विरोध में बिहार के नवादा में लोगों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया. बाजार में लोगों ने एकजुट होकर अपनी दुकानें बंद कर हमले के विरोध में प्रदर्शन किया. न ही कोई राजनीतिक दल और न ही कोई संगठन, लोगों ने स्वतः अपनी-अपनी दुकानें बंद कर हमले का विरोध किया. जिले में शहर से लेकर गांवों तक सन्नाटा पसरा हुआ है. लोग आक्रोशित हैं.

सुबह से ही बजरंग दल, स्कूली बच्चे, स्थानीय दुकानदार, वकीलों का संगठन के साथ-साथ कई मुस्लिम संगठनों ने पूरे शहर में आक्रोश मार्च निकाला. सुबह से ही सभी चौक-चौराहे पर तिरंगा झंडा हाथ में लिए लोग आक्रोश मार्च में शामिल हुए. इस दौरान लोगों ने एक स्वर में आतंकियों के इस कायराना हरकत पर जमकर विरोध जताया है.

सुबह से ही सैकड़ों की संख्या में लोग अपना आक्रोश जता रहे हैं. इसको देखते हुए जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारी ने अप्रिय घटना न हो इसके लिए सभी संवेदनशील जगहों पर सुरक्षाकर्मियों की तैनाती कर दी है.

जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में गुरुवार को हुए आतंकी हमले में शहीद हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) के जवानों को आज अंतिम विदाई दी जा रही है. पूरे देश में शोक की लहर है. शहीद जवानों के पार्थिव शरीर को शुक्रवार को दिल्‍ली लाया गया था. पालम एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई मंत्रियों और नेताओं ने श्रद्धांजलि अर्पित की.

शहीदों के शव उनके घर भेजे जा रहे हैं. पीएम मोदी ने बीजेपी के सभी मंत्र‍ियों और सांसदों को निर्देश दिया है कि वह अपने-अपने राज्‍यों में इन जवानों के अंतिम संस्‍कार के समय वहां पर मौजूद रहें.