PUSU नवनिर्वाचित अध्यक्ष दिव्यांशु के निर्वाचन को पटना हाईकोर्ट ने ठहराया वैध

बिहार के पटना यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव मामले में पटना हाईकोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है. फैसले के अनुसार छात्रसंघ चुनाव में नवनिर्वाचित अध्यक्ष दिव्यांशु भारद्वाजा के निर्वाचन को वैध बताया है.

PUSU नवनिर्वाचित अध्यक्ष दिव्यांशु के निर्वाचन को पटना हाईकोर्ट ने ठहराया वैध
दिव्यांशु के निर्वाचन को पटना हाईकोर्ट ने वैध करार दिया है.

पटनाः बिहार के पटना यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव मामले में पटना हाईकोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है. फैसले के अनुसार छात्रसंघ चुनाव में नवनिर्वाचित अध्यक्ष दिव्यांशु भारद्वाजा के निर्वाचन को वैध बताया है. इसके अलावा कोर्ट ने स्नातकोत्तर में नामांकन को भी वैध ठहराया है. पटना हाईकोर्ट के न्यायाधिश चक्रधारी शरण ने याचिका पर सुनवाई के बाद फैसला सुनाया है. पटना यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव के बाद कुछ छात्र संगठनों ने आरोप लगाया था कि दिव्यांशु ने गलत तरीके से स्नातकोत्तर में नामांकन कराया है. इस मामले में छात्र संगठनों के हंगामे के बाद यूनिवर्सिटी की ओर से एक जांच टीम का गठन किया गया. जांच टीम ने दिव्यांशु की नामांकन को गलत बताते हुए निर्वाचन रद्द कर दिया था.

यूनिवर्सिटी की तरफ से निर्वाचन रद्द करने के बाद दिव्यांशु भारद्वाज ने यूनिवर्सिटी पर लिंग्दोह कमेटी की सिफारिश और पीयूएसयू चुनाव की नियामवली की व्याख्या करते हुए कोर्ट में शिकायत दर्ज करायी. जिसमें कुलपति, उपकुलपति और इलेक्शन इंचार्ज को पार्टी बनाया गया था.

आरजेडी ने जारी किया नीतीश सरकार के खिलाफ आरोप पत्र, गिनाये विफलताओं के बिंदु

दिव्यांशु ने जांच कमेटी पर आरोप लगाया कि उसके पक्ष को सुने बिना ही कमेटी ने निर्वाचन रद्द कर दिया था. दिव्यांशु ने कहा जिस पत्र के आधार पर स्नातोकत्तर में नामांकन रद्द किया गया. उसे यूजीसी ने ही साल 2016 में जारी किया था. मामले की सुनवाई करते हुए पटना हाईकोर्ट ने दिव्यांशु के निर्वाचन को वैध करार दिया.