close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार बाढ़ : राबड़ी देवी ने की राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग, बोलीं- केंद्र दे 10 हजार करोड़

बाढ़ से निपटने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार से जैसे ही मदद की गुहार लगायी कि विपक्ष ने भी कमर कस ली. 

बिहार बाढ़ : राबड़ी देवी ने की राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग, बोलीं- केंद्र दे 10 हजार करोड़
राबड़ी देवी ने की बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग. (फाइल फोटो)

पटना : बिहार में बाढ़ की आपदा से लोग परेशान हैं. वहीं, इस मामले पर राजनीति भी तेज है. मानसून सत्र के अंतिम दिन बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने प्रधानमंत्री नरेंद मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से राज्य में आयी बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग की है.

बाढ़ से निपटने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार से जैसे ही मदद की गुहार लगायी कि विपक्ष ने भी कमर कस ली. राबड़ी देवी ने बिहार में आयी बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग कर दी है.

राबड़ी देवी ने कहा है कि लोग बाढ़ से तबाह हैं, लेकिन केंद्र और राज्य की सरकार कुछ भी नहीं कर रही है. राबड़ी देवी ने राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग के साथ ही 10 हजार करोड़ रुपए की आर्थिक मदद देने की भी मांग की है.

विपक्ष लगातार सरकार को घेर रही थी. इस सबके बीच आज यानी शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदन में जवाब दिया और सरकार की तरफ से किए गए प्रयासों से अवगत कराया.

सदन को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि 13 जुलाई को हमने आठ घंटे तक इस विषय पर चर्चा की. प्रदेश में जल, जीवन और हरियाली अभियान चलाने का फैसला लिया गया. उन्होंने कहा कि बाढ़ की स्थिति का जायजा मैंने खुद ली है. उन्होंने कहा कि हवाई सर्वे के जरिए सभी जगहों का जायजा लिया. हर जिले की स्थिति का आकलन करवाया है.

सीएम नीतीश ने कहा कि सरकार की तरफ से राहत देने की शुरुआत की गई है. कुछ गांवों तक प्रशासन नहीं पहुंच पाया, वहां हेलीकॉप्टर से फूड पैकेट पहुंचा रहे हैं. घर और फसल क्षति सभी के लिए मदद दी जाएगी. उन्होंने कहा कि अभी भी बाढ़ से प्रभावित इलाकों पर खतरा है. क्योंकि बाढ़ अमूमन अगस्त और सितंबर महीने में आती है.

लाइव टीवी देखें-:

Tags: